टांटन। ऑस्ट्रेलिया ने आईसीसी विश्व कप क्रिकेट के मुकाबले में पाकिस्तान को 41 रनों से हरा दिया है। आस्ट्रेलिया द्वारा निर्धारित 308 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान की पूरी टीम 45.4 ओवरों में 266 पर आउट हो गई। इस तरह ऑस्ट्रेलिया ने 41 रनों से ये मुकाबला जीत लिया। मैच में एक समय पाकिस्तान वापसी करती दिखाई दे रही थी, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने अंतिम पंक्ति के विकेट हासिल करते हुए इस जीत को आसान बना दिया। ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (107 रन) को उनकी शानदार शतकीय पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

308 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान की शुरुआत खराब रही और उसने फखर जमान का विकेट पारी के तीसरे ओवर में खो दिया था। पैट कमिंस की गेंद पर कैन रिचर्ड्सन ने उनका शानदार कैच दिया। उस समय फखर खाता भी नहीं खोल पाए थे। इसके बाद इमाम और बाबर आजम ने पारी को आगे बढ़ाया और पाकिस्तान का स्कोर 50 पार तक पहुंचाया। 56 के कुल स्कोर पर बाबर आजम का विकेट गिरा। बाबर 30 रन (28 गेंद, 7 चौके) बनाकर कुल्टर नाइल की गेंद पर रिचर्ड्सन द्वारा कैच किए गए।

इसके बाद इमाम उल हक और मोहम्मद हाफिज ने पाकिस्तान की पारी आगे बढ़ाया और तीसरे विकेट के लिए 80 रनों की साझेदारी की। इमाम को पैट कमिंस ने विकेट के पीछे कैरी के हाथों कैच कराया। इमाम 75 गेंदो में 7 चौकों की मदद से 53 रन बनाकर आउट हुए। इस जोड़ी के टूटते ही पाकिस्तान की पारी लड़खड़ा गई। अगले ही ओवर में हाफिज भी आउट हो गए। कप्तान ने उन्हें मिचेल स्टार्क के हाथों कैच करा दिया। हाफिज ने 49 गेंदों में 3 चौकों और एक छक्के की मदद से 46 रन बनाए। इसके बाद पाकिस्तान ने शोएब मलिक (0) और आसिफ अली (5) के विकेट खोए। बाद में हसन अली ने 15 गेंदों में 3 चौके, 3 छक्कों की मदद से 32 रन बनाए।

यहां लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया आसानी से मैच जीत लेगा, लेकिन कप्तान सरफराज अहमद और वहाब रियाज ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों पर काउंटर अटैक किया और तेजी से रन बनाने शुरू किए। खासतौर से वहाब लगभग हर गेंद को मार रहे थे और इसमें उन्हें सफलता भी मिल रही थी। दोनों ने 8वें विकेट के लिए 64 रनों की साझेदारी की। मिचेल स्टार्क ने वहाब को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। वहाब ने 39 गेंदों में 2 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 45 रन बनाए। पाकिस्तान का ये 8वां विकेट 264 के स्कोर पर गिरा। इसके बाद सिर्फ 2 रनों के भीतर पाकिस्तान की पूरी टीम आउट हो गई। मोहम्मद आमिर 0 पर आउट हुए। वहीं सरफराज के आउट होने के साथ ही पाकिस्तान टीम हार गई। सरफराज 48 गेंदों में 40 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से पैट कमिंस ने 3 और मिचेल स्टार्क, केन रिचर्ड्सन ने 2-2 विकेट लिए।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 49 ओवर में 307 रन बनाकर आउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया के लिए डेविड वार्नर ने शानदार शतक लगाया, वहीं कप्तान एरोन फिंच ने भी 82 रनों की जानदार पारी खेली। इसके अलावा अन्य बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सके। वहीं पाकिस्तान ने मैच में शानदार वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया की पारी को जल्दी समेटा। मोहम्मद आमिर ने 10 ओवरों में 30 रन देकर 5 विकेट लिए।

इससे पहले पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। उसके गेंदबाजों ने शुरुआत में कप्तान एरोन फिंच और डेविड वॉर्नर की ऑस्ट्रेलियाई सलामी जोड़ी को काफी परेशान किया, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली। फिंच और वार्नर ने पहले विकेट के लिए शानदार 146 रनों की साझेदारी की। कप्तान फिंच 82 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें मोहम्मद आमिर की गेंद पर हाफिज ने कैच किया।

इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने पहले स्टीवन स्मिथ (10) और ग्लेन मैक्सवेस (20) के विकेट सस्ते में खो दिए थे। इसके बाद वॉर्नर ने अपना शानदार शतक पूरा किया। ये उनका पाकिस्तान के खिलाफ पिछले तीन मैचों में लगातार तीसरा शतक है। साथ ही वे वर्ल्ड कप पाकिस्तान के खिलाफ शतक जमाने वाले ऑस्ट्रेलिया के दूसरे बल्लेबाज बने। इससे पहले एंड्रयू साइमंड्स ने 2003 में जोहानसबर्ग में 143 रन बनाए थे। वॉर्नर हालांकि शतक के बाद ज्यादा देर तक नहीं टिक पाए और 107 रन बनाकर आउट हो गए। उन्हें शाहिन आफरीदी की गेंद पर इमाम ने कैच किया। अपनी 107 रनों की पारी में उन्होंने 111 गेंदें खेलीं और 11 चौके और 1 छक्का लगाया।

एक समय ऑस्ट्रेलिया बड़े स्कोर की ओर बढ़ रहा था और लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया 350 रन बनाएगा। लेकिन वार्नर के आउट होने के बाद मैच का रुख ऐसा बदला कि पाकिस्तान छा गया। मोहम्मद आमिर ने अपनी गेंदों से ऐसा कहर मचाया कि ऑस्ट्रेलिया के अंतिम 6 विकेट महज 30 रनों में गिर गए। उस्मान ख्वाजा (18), शॉन मार्श (23), नाथन कुल्टर नाइल (2), कमिंस (2), एलेक्स कैरी (20) और मिचेल स्टार्क (3) रन बनाकर आउट हुए। आमिर के 5 विकेटों के अलावा शाहिन ने 2 और हसन, वहाब और हाफिज ने 1-1 विकेट लिए।

मैच में ये रहा खास

- ये ऑस्ट्रेलिया की पाकिस्तान के खिलाफ लगातार 9वीं वनडे जीत है। लगातार मैच जीतने के मामले में उसने वेस्टइंडीज की बराबरी कर ली। पाकिस्तान के खिलाफ लगातार सबसे ज्यादा जीत का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका (1995 से 2000 के बीच 14 मैच) के नाम है।

- ऑस्ट्रेलिया ने 19 बार विश्व कप में पहले बल्लेबाजी कर 300+ स्कोर बनाया। उसे हर बार जीत मिली है।

- ऑस्ट्रेलिया की ओर से एरोन फिंच और डेविड वार्नर की सलामी जोड़ी ने 23 साल बाद पाकिस्तान के खिलाफ विश्व कप के मैच शतकीय साझेदारी की। दोनों ने 146 रन जोड़े। इससे पहले 1996 विश्व कप में कराची में इंग्लैंड के रॉबिन स्मिथ व माइकल एथर्टन ने 147 रन जोड़े थे।

- पाकिस्तान के मो. आमिर ने 30 रन देकर 5 विकेट लिए, जो उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

टीमें : ऑस्ट्रेलिया - आरोन फिंच (कप्तान), डेविड वार्नर, उस्मान ख्वाजा, स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, एलेक्स कैरी, एडम जांपा, पैट कमिंस, नाथन कूल्टर नाइल, मिचेल मार्श, मिशेल स्टार्क, नाथन लियोन, शॉन मार्श, जेसन बहरनडॉर्फ, केन रिचर्डसन।

पाकिस्तान - इमाम उल हक, फखर जमान, बाबर आजम, मोहम्मद हाफिज, सरफराज अहमद (कप्तान), शोएब मलिक, आसिफ अली, शादाब खान, मोहम्मद आमिर, हसन अली, वहाब रियाज।

Posted By: Arvind Dubey