मैनचेस्टर। भारतीय क्रिकेट टीम के चीफ कोच रवि शास्त्री का मानना है कि राउंड रॉबिन दौर में मुकाबले के दौरान भगवान इंग्लैंड टीम के ड्रेसिंग रुम में थे लेकिन उन्होंने उम्मीद जताई कि यदि फाइनल में दोनों टीमें भिड़ी तो इस बार भगवान टीम इंडिया का साथ देंगे।

भारत ने यदि पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को हराया तो उसका फाइनल में मुकाबला ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच होने वाले विजेता से होगा। भारत राउंड रॉबिन दौर में 15 अंकों के साथ शीर्ष पर रहा था। इस दौर में उसे एकमात्र हार इंग्लैंड के हाथों मिली थी। इंग्लैंड ने करो या मरो के मुकाबले में भारत को हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीद बनाए रखी थी।

आईसीसी द्वारा पोस्ट किए गए वीडियो में शास्त्री ने कहा, 'मुझे लगता है कि उस दिन भगवान इंग्लैंड के ड्रेसिंग रूम में थे। उम्मीद करता हूं कि अगर हम अगले मैच में इंग्लैंड से खेलेंगे तो वे हमारे ड्रेसिंग रूम में होंगे।' शास्त्री ने टूर्नामेंट के मौजूदा शीर्ष स्कोरर रोहित शर्मा की भी जमकर तारीफ की जो टूर्नामेंट में पांच शतक जड़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि रोहित महानतम वनडे खिलाड़ियों में से एक हैं भले ही वे इस प्रतियोगिता में रन बनाते हैं या नहीं, वर्षों से उसके रिकॉर्ड पर नजर डालिए। वनडे मैचों में तीन दोहरे शतक। ऐसा अभी तक किसी ने ऐसा नहीं किया है। शीर्ष क्रम में उसने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। उसके फॉर्म को लेकर हैरानी की बात नहीं है। इस तरह के फॉर्म में आने के लिए अगर वह विश्व कप को चुनते हैं तो कोच के रूप में मुझे खुशी होगी। रोहित के फॉर्म का भारत को फायदा हुआ हैं। उन्होंने सेमीफाइनल से पहले लगातार तीन शतक जड़े हैं।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले मैच में रोहित के शतक को उनके सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी प्रदर्शन में से एक बताते हुए शास्त्री ने कहा कि वह कठिन पिच थी। गेंद असमान उछास से आ रही थी । इसलिए मैंने सोचा कि यह रोहित के सभी वनडे अंतरराष्ट्रीय शतकों में विशेष पारी है। मुझे लगता है कि यह उसकी सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक है।

Posted By: Kiran Waikar