मल्टीमीडिया डेस्क। इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच ICC Cricket World Cup का फाइनल खेला जा रहा है। न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है। इस बीच क्रिकेट वर्ल्ड कप फाइनल के रोचक आंकड़े सामने आए हैं। अब तक 11 वर्ल्ड कप फाइनल खेले गए हैं और 7 में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम विजयी हुई है। 4 बार बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम चैंपियन बनी है। इस लिहाज से देखा जाए तो न्यूजीलैंड के समर्थक टीम की पहले बल्लेबाजी पर खुश हो रहे होंगे।

फाइनल में बल्लेबाजी का औसत टोटल 248 रन: वर्ल्ड कप फाइनल में रन बनाने का औसत आंकड़ा 248 है। इसमें उच्चतम स्कोर ऑस्ट्रेलिया के नाम है, जो उसने 2003 में भारत के खिलाफ बनाया था। तब एक तरफा मैच में भारत को बड़ी हार का सामना करना पड़ा था।

वहीं किसी भी वर्ल्ड कप फाइनल में सबसे कम स्कोर पाकिस्तान के नाम है, जो उसने 1999 में बनाया था। तब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पाकिस्तान ने महज 132 रन बनाए थे और कंगारूओं ने आठ विकेट से मैच जीत लिया था।

लक्ष्य का पीछा करने का रिकॉर्ड भारत के नाम: वर्ल्ड कप फाइनल में लक्ष्य का पीछा करने का रिकॉर्ड टीम इंडिया के नाम है। मुंबई में खेले गए 2011 के वर्ल्ड कप फाइनल में श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 274 रन बनाए थे। जवाब में टीम इंडिया ने 10 गेंद शेष रहते 4 विकेट खोकर 277 रन बना लिए थे। एमएस धोनी मैन ऑफ द मैच रहे थे।

6 शतक, सबसे बड़ा स्कोर गिलक्रिस्ट के नाम: विश्व कप फाइलन में 6 शतक लगे हैं। सबसे बड़ा निजी स्कोर ऑस्ट्रेलिया के विकेट कीपर एडम गिलक्रिस्ट के नाम है, जिन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 149 रन बनाए थे।

बेस्ट बोलिंग 40 साल पहले: फाइनल में गेंदबाजी का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1979 में देखने को मिला था। तब वेस्टइंडीज के खिलाफ इंग्लैंड के जोएल गार्गन ने 10 ओवर में 38 रन देकर 5 विकेट लिए थे।