सिडनी। Ind vs Aus ICC Women's T20 World Cup 2020: पूनम यादव की घातक गेंदबाजी से भारत ने शुक्रवार को महिला टी20 वर्ल्ड कप के पहले ही मैच में धमाकेदार प्रदर्शन कर चार बार के चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 17 रनों से हरा दिया। भारत ने ग्रुप ए के इस मुकाबले में दीप्ति शर्मा के 49 रनों की मदद से 4 विकेट पर 132 रन बनाए। इस लो-स्कोरिंग मैच में पूनम यादव की घातक गेंदबाजी (19/4) के सामने ऑस्ट्रेलिया की पारी 19.5 ओवरों में 115 रनों पर सिमट गई। एलिसा हिली ने 51 रन बनाए। पूनम मैच की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनी गई।

टारगेट का पीछा कर रहे ऑस्ट्रेलिया को एलिसा हिली ने आक्रामक शुरुआत दिलाई। शिखा पांडे ने भारत को पहली सफलता दिलाई जब उन्होंने बेथ मूनी (6) को राजेश्वरी गायकवाड के हाथों झिलवाया। ऑस्ट्रेलिया को दूसरा झटका 55 के स्कोर पर लगा जब कप्तान मेग लेनिंग ने गायकवाड़ की गेंद पर विकेटकीपर तान्या भाटिया को कैच थमाया। उन्होंने 5 रन बनाए। हिली ने पूनम यादव की गेंद पर छक्का लगाकर अर्द्धशतक पूरा किया। उन्होंने 34 गेंदों में 6 चौकों और 1 छक्के की मदद से अर्द्धशतक पूरा किया। पूनम ने इसी ओवर में हिली का रिटर्न कैच लपककर उन्हें पैवेलियन लौटाया। हिली ने 51 रन बनाए और मेजबान टीम को तीसरा झटका 67 के स्कोर पर लगा।

ऑस्ट्रेलिया अभी इस सदमे से उबरा भी नहीं था कि पूनम यादव ने रचेल हैंस (6) को विकेटकीपर भाटिया के हाथों स्टंप करवा दिया। पूनम ने अगली ही गेंद पर एलिस पैरी को बोल्ड कर ऑस्ट्रेलिया को संकट में ला दिया।

पूनम यादव ने खतरनाक गेंदबाजी का क्रम जारी रखते हुए जेस जोनासेन को विकेटकीपर भाटिया के हाथों झिलवाया और ऑस्ट्रेलिया 82 रनों पर 6 विकेट खोकर नाजुक स्थिति में पहुं गया। विकेटकीपर तान्या भाटिया ने एनाबेल सदरलैंड (2) को शिखा पांडे की गेंद पर स्टम्पिंग किया। ऑस्ट्रेलिया ने सातवां विकेट 101 के स्कोर पर गंवाया। डेलिसा किमिंसे 4 रन बनाकर रन आउट हुई। एश्ले गार्डनर 34 रन बनाकर शिखा पांडे की गेंद पर उन्हीं के हाथों लपकी गई। भारत की तरफ से पूनम यादव सबसे सफल गेंदबाज रहीं, उन्होंने 19 रनों पर 4 विकेट लिए। शिखा पांडे ने 14 रनों पर 3 विकेट लिए।

ऑस्ट्रेलिया ने प्रारंभिक मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। भारत को पहला झटका स्मृति मंधाना के रूप में लगा जब वे 10 रन बनाकर जेस जोनासेन की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हुई। भारत को पहला झटका 40 के स्कोर पर लगा। 16 साल की शैफाली वर्मा आक्रामक बल्लेबाजी कर रही थी लेकिन वे एलिस पैरी की गेंद पर एनाबेल सदरलैंड को कैच थमा बैठी। उन्होंने 15 गेंदों में 5 चौकों और 1 छक्के की मदद से 29 रन बनाए। इसी ओवर में अंपायर ने उन्हें एलबीडब्ल्यू दिया था लेकिन वे रिव्यू लेकर बच गई थी। भारत को कप्तान हरमनप्रीत कौर से बड़ी पारी की उम्मीद थी लेकिन वे 2 रन बनाकर जोनासेन की गेंद पर विकेटकीपर एलिसा हिली द्वारा स्टंप की गई। हिली गेंद को पकड़ नहीं पाई थी लेकिन गेंद उनके पैड्स से टकराकर स्टंप्स पर जा लगी। 47 रनों पर तीसरा विकेट खोने के बाद जेमिमा रॉड्रिगेज को दीप्ति शर्मा का साथ मिला और दोनों ने चौथे विकेट के लिए 53 रनों की साझेदारी की। इस साझेदारी को डेलिसा किमिंस ने रॉड्रिगेज को एलबीडब्ल्यू कर तोड़ा। उन्होंने 26 रन बनाए। दीप्ति 46 गेंदों में 3 चौकों की मदद से 49 रन बनाकर नाबाद रहीं।

ऑस्ट्रेलिया की निगाहें रिकॉर्ड पांचवें खिताब पर टिकी हुई है जबकि भारत पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनने की दिशा में कदम आगे बढ़ाना चाहेगा। हरमनप्रीत कौर की टीम इंडिया के लिए मेग लेनिंग की ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ राह आसान नहीं होगी।

ऑस्ट्रेलिया ने पिछले दिनों ट्राई सीरीज के फाइनल में भारत को हराया था। वैसे भी ऑस्ट्रेलिया का भारत के खिलाफ रिकॉर्ड शानदार रहा है। इन दोनों टीमों के बीच हुए 18 मैचों में से ऑस्ट्रेलिया ने 13 मैच जीते हैं जबकि भारत 5 मैच ही जीत पाया है। ऑस्ट्रेलिया सबसे ज्यादा चार बार वर्ल्ड कप खिताब जीत चुका है और उसे इस बार भी खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। उसने 2010, 2012, 2014 और 2018 में वर्ल्ड कप जीता था। भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें वर्ल्ड कप में तीन बार आपस में भिड़ चुकी है और ऑस्ट्रेलिया ने इनमें से दो मैचों में जीत दर्ज की जबकि भारत एक मैच ही जीत पाया है। भारत अभी तक वर्ल्ड कप में तीन बार (2009, 2010 और 2018) में सेमीफाइनल में पहुंच पाया है और उसने एक बार भी फाइनल में जगह नहीं बनाई हैं।

भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा, 'हम वर्ल्ड कप हासिल करने के लिए पूरा जोर लगाएंगे, हमारी टीम किसी को भी हराने में सक्षम है। इस पिच पर स्पिनरों को मदद मिलेगी और इसके चलते हमारे स्पिनर मैच में अहम भूमिका निभा सकते हैं। भारत को इस मैच में दीप्ति शर्मा, पूनम यादव और राधा यादव से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी।

ऑस्ट्रेलिया की कप्तान मेग लेनिंग भी चाहेंगी कि उनकी टीम वर्ल्ड कप में अच्छी शुरुआत करे। वैसे उनके साथ समस्या यह रहेगी कि स्टार खिलाड़ी एलिस पैरी इस समय करियर के सबसे खराब दौर से गुजर रही हैं जबकि तेज गेंदबाज तायला व्लामिंक चोट की वजह से वर्ल्ड कप से बाहर हो चुकी हैं। ऑस्ट्रेलिया ने पिछले दिनों ट्राई सीरीज के फाइनल में भारत को हराकर खिताब जीता था और मेजबान टीम उस प्रदर्शन से प्रेरणा पाकर विजयी शुरुआत करना चाहेंगी।

टीमें - भारत - शैफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, जेमिमा रॉड्रिगेज, हरमनप्रीत कौर (कप्तान), दीप्ति शर्मा, वेदा कृष्णमूर्ति, शिखा पांडे, तान्या भाटिया, अरुंधति रेड्डी, राधा यादव, राजेश्वरी गायकवाड़।

ऑस्ट्रेलिया: एलिसा हिली, बेथ मूनी, एश्ले गार्डनर, मेग लेनिंग (कप्तान), एलिस पैरी, रचेल हैंस, एनाबेल सदरलैंड, जेस जोनासेन, डेलिसा किमिंस, मोली स्ट्रेनो, मेगन शट।

Posted By: Kiran Waikar