नॉटिंघम। जसप्रीत बुमराह की घातक गेंदबाजी की बदौलत तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड की टीम हार के कगार पर पहुंच गई है। 521 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी इंग्लैंड टीम 311 रन पर 9 विकेट गवां कर संघर्ष कर रही है। दिन के शुरू में ईशांत शर्मा (2 विकेट) और फिर बुमराह (5 विकेट) ने शानदार गेंदबाजी की। बुधवार को मैच का आखिरी दिन है। राशिद 30 रन और एंडरसन 8 रन पर खेल रहे हैं।

62 रन पर 4 विकेट गंवाने के बाद इंग्लैंड मुश्किल में दिख रहा था। मगर बटलर और स्टोक्स ने इंग्लिश पारी को संभाला है। दोनों के बीच पांचवें विकेट के लिए 169 रन की साझेदारी हुई, जिसे बुमराह ने तोड़ा।

इससे पहले चौथे दिन के खेल की शुरुआत में ईशांत शर्मा ने घातक गेंदबाजी की। उन्होंने पहले जेनिंग्स (13 रन) और फिर एलिस्टर कुक (17 रन) को पैवेलियन की राह दिखाई। ईशांत को दिन के पहले ही ओवर में कामयाबी मिली। जेनिंग्स विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट हो गए। तुरंत बाद कुक भी 17 रन के निजी स्कोर पर ईशांत की गेंद पर स्लीप में केएल राहुल के हाथों कैच आउट हो गए।

तीसरा विकेट जे. रूट (13 रन) का रहा, जो बुमराह की गेंद पर केएल राहुल को कैच थमा बैठे। ओजे पोप (16 रन) को मोहम्मद शमी ने कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच आउट करवाया।

बटलर ने 106 रन की शानदार शतकीय पारी खेली। उनके आउट होने के बाद जेएम बैस्ट्रो और वोक्स जल्दी जल्दी पैवेलियन लौट गए। ब्रैस्ट्रो (0 रन) को बुमराह ने बोल्ड आउट किया, वहीं वोक्स (4) को ऋषभ पंत ने कैच आउट किया। आठवां विकेट स्ट्रोक्स का रहा, जिन्होंने 62 रन बनाए। हार्दिक पांड्या की गेंद पर केएल राहुल ने उनका कैच पकड़ा। नौवां विकेट ब्रॉड का रहा जिन्हें बुमराह ने राहुल के हाथों कैच आउट कराया।

भारत की दूसरी पारी में कप्तान विराट कोहली के शानदार शतक से इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में टीम इंडिया मजबूत स्थिति में पहुंच गई थी। मैच के तीसरे दिन भारत ने दूसरी पारी में 7 विकेट के नुकसान पर 352 रन बनाकर पारी घोषित कर दी। इस तरह दूसरी पारी में भारत की कुल बढ़त 520 रन हो गई है।

कप्तान विराट कोहली ने 103 रन (197 गेंद, 10 चौके) की शानदार पारी खेली। वहीं चेतेश्वर पुजारा ने 72 रन बनाए। हार्दिक पांड्या 52 रन पर नाबाद रहे।

इंग्लैंड ने चौथी पारी में नॉटिंघम में 284/6 का स्कोर बनाकर 2004 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट जीता था। यह इस मैदान में चौथी पारी का लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल करने का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है।

सोमवार को इंग्लैंड के गेंदबाज विकेट के लिए तरस गए। कोहली और पुजारा ने लंच तक शानदार बल्लेबाजी की। तीसरे दिन आउट होने वाले पहले बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा रहे जिन्होंंने 72 रन (208 गेंद, 9 चौके) बनाए। लंच के बाद वे स्ट्रोक्स की गेंद पर कूक को कैच दे बैठे। कोहली को वोक्स ने एलबीडब्ल्यू आउट किया। ऋषभ पंत कुछ खास नहीं कर सके और महज एक रन के स्कोर पर एंडरसन की गेंद पर कूक के हाथों कैच आउट हो गए।

पारी के दौरान कोहली का अच्छा साथ निभाने वाले अजिंक्य रहाणे 29 रन बनाकर राशिद की गेंद पर बोल्ड हुए। सातवां विकेट मोहम्मद शमी का रहा, जिन्होंने 3 रन बनाए। अश्विन 1 रन पर नाबाद रहे। पांड्या का अर्द्धशतक पूरा होते ही कोहली ने पारी घोषित कर दी।

इंग्लैंड की ओर से स्पिनर राशिद ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए। स्ट्रोक्स ने दो तो वोक्स और एंडरसन ने एक-एक विकेट लिया। इससे पहले भारत ने पहली पारी में 329 रन बनाए थे, जिसके जवाब में मेजबान टीम 161 रन पर ढेर हो गई थी।

Posted By:

  • Font Size
  • Close