IND vs ENG 5th test 2021: इंग्लैंड और भारत के बीच पांचवां और अंतिम टेस्ट रद्द कर दिया गया है। हालांकि सीरीज के रिजल्ट को लेकर अब तक स्थिति स्पष्ट नहीं है। दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड के साथ ही आईसीसी के अधिकारी मंथन कर रहे हैं। पूरे मामले को लेकर इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के बीच विवाद की स्थिति भी बनी। दरअसल, इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने जब पांचवां टेस्ट मैच रद्द होने का ऐलान किया तब उसकी ओर से कहा गया कि भारत ने यह मैच खेलने के इन्कार कर दिया है इसलिए इसे फॉफिट (Forfeit) माना जाएगा यानी एक तरह से भारत ने इंग्लैंड को वाकओर दे दिया है। इसलिए सीरीज 2-2 से बराबर मानी जाएगी। ECB की इस प्रेस रिलीज पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने आपत्ति दर्ज करवाई। इस पर ECB को पीछे हटना पड़ा और उन्होंने इन प्रेस रिलीज जारी की।

बहरहाल, इस टेस्ट मैच को लेकर पहले खबर आई थी कि मैच एक दो दिन टल सकता है, लेकिन आखिरी में दोनों देशों के क्रिकेट बोर्डों ने इसे रद्द करने का फैसल कर लिया। कोरोना की मार के कारण यह मैच रद्द हुआ है। इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) से मिली जानकारी के अनुसार सीरीज का आखिरी मैच 10 सितंबर से मैनचेस्टर में शुरू होने वाला था, लेकिन इससे एक दिन पहले 9 सितंबर को भारतीय टीम के फीजियो को कोरोना संक्रमित पाया गया था। इसके बाद सभी क्रिकेटरों की जांच हुई। हालांकि सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

इस टेस्ट को लेकर कई तरह की शंकाएं लगाई जा रही थी, क्योंकि जूनियर फिजियो योगेश परमार भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जूनियर फिजियो योगेश परमार के पॉजिटिव आने के बाद भारतीय टीम ने प्रैक्टिस बंद कर दी थी और सभी खिलाड़ियों का RT-PCR टेस्ट किया गया था।

गांगुली ने जताई थी आशंका

इससे पहले, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने पांचवें टेस्ट के आगे बढ़ने पर संदेह व्यक्त किया था क्योंकि भारत क्रिकेट टीम के जूनियर फिजियो योगेश परमार ने सीओवीआईडी ​​-19 के लिए सकारात्मक परीक्षण किया था, जिसके कारण दर्शकों ने गुरुवार सुबह अभ्यास सत्र रद्द कर दिया था। गांगुली ने कोलकाता में 'मिशन डोमिनेशन' की पुस्तक के लॉन्च पर कहा था "हम नहीं जानते कि इस समय मैच होगा या नहीं। उम्मीद है, हम कुछ खेल प्राप्त कर सकते हैं।”

Posted By: Arvind Dubey