रांची (एजेंसियां)। यहां खेले जा रहे तीसरे और अंतिम टेस्ट में शुरुआती लड़खड़ाहट के बाद अच्छी वापसी पर टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने संतोष जताया है। राठौर ने रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे की जबर्दस्त बल्लेबाजी के लिए तारीफ की।

बता दें कि भारत ने एक समय केवल 39 रनों में ही मयंक अग्रवाल (10), चेतेश्वर पुजारा (0) और कप्तान विराट कोहली (12) के विकेट खो दिए थे। बाद में रोहित और रहाणे ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचाया। पहले दिन के खेल की समाप्ति तक भारत का स्कोर 3 विकेट पर 224 रन है। रोहित 117 और रहाणे 83 रन बनाकर खेल रहे हैं। दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए अब तक 185 रनों की साझेदारी हो चुकी है।

बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने कहा - पहले दिन सुबह के सत्र में दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजों ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया और परिस्थितियों का पूरा लाभ उठाया। लेकिन रोहित और रहाणे ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए पारी को संभाला। एक बार दोनों की नजरें जम जाने के बाद दोनों ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की। दोनों ने कमजोर गेंदों का इंतजार किया और बेहतरीन शॉट खेले। रोहित एक बार लय में नजर आ जाते हैं तो उनकी बल्लेबाजी आम से खास हो जाती है जबकि रहाणे ने भी दूसरे छोर पर टिककर बल्लेबाजी की और रोहित का काफी अच्छा साथ दिया।

रोहित और मयंक की सलामी जोड़ी के प्रदर्शन पर राठौर ने कहा - दोनों अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं। दोनों ने सीरीज में तीन-तीन शतक जमाए हैं। यह काफी अच्छा प्रदर्शन है। फिलहाल इस जोड़ी को अलग करने का कोई मतलब नहीं है। हम किसी तरह की तब्दीली के बारे में नहीं बिल्कुल नहीं सोच रहे। हमारा लक्ष्य इस मैदान में 450 या उससे अधिक रन बनाना है, ऐसे में हम दक्षिण अफ्रीकी टीम पर दबाव बना सकेंगे।

नोर्त्जे को भारत की वापसी का मलाल

उधर दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज एनरिक नोर्त्जे अपनी टीम के प्रदर्शन से खुश नहीं हैं। उनके मुताबिक- हमने अच्छी शुरुआत करते हुए भारत को दबाव में ला दिया था। हमने केवल 39 रनों में उनके 3 टॉप बल्लेबाजों के विकेट हासिल कर लिए थे। लेकिन बाद में हमने ये पकड़ गंवा दी। इसका फायदा उठाते हुए मेजबान टीम ने वापसी कर ली। नोर्त्जे ने कहा- पिछले टेस्ट की तरह हमने निश्चित तौर पर बेहतर प्रदर्शन किया। हमने बस थोड़े बेहतर तरीके से मैच को नियंत्रित करने की कोशिश की। लेकिन दुर्भाग्य से हम एक और विकेट नहीं ले पाए। हमने बीच में लय खो दी, लेकिन पिछले मैच के मुकाबले ये अच्छा प्रयास रहा है।

Posted By: Rahul Vavikar