मल्टीमीडिया डेस्क। भारत ने बुधवार को पोर्ट ऑफ स्पेन में वेस्टइंडीज को वर्षा बाधित तीसरे और अंतिम वनडे मैच में डकवर्थ-लुईस पद्धित से 6 विकेट से हराया। विराट कोहली ने नाबाद शतकीय पारी (114) खेलते हुए टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई। कोहली ने इस दौरान कई वर्ल्ड रिकॉर्ड ध्वस्त किए और अपनी टीम को 2-0 से सीरीज दिलाई।

वेस्टइंडीज ने क्रिस गेल के 72 रनों की मदद से 35 ओवरों में 7 विकेट पर 240 रन बनाए। इसके जवाब में भारत को 35 ओवरों में 255 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला जिसे भारत ने 32.3 ओवरों में 4 विकेट खोकर हासिल किया। विराट ने नाबाद 114 और श्रेयस अय्यर ने 65 रन बनाए।

सचिन को पीछे छोड़ा

विराट का यह वेस्टइंडीज के खिलाफ नौवां वनडे शतक है। उन्होंने एक देश के खिलाफ सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में सचिन तेंडुलकर के रिकॉर्ड की बराबरी की। सचिन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 9 शतक लगाए थे लेकिन उन्हें इसके लिए 70 पारियां खेलनी पड़ी थी जबकि विराट ने विंडीज के खिलाफ यह मुकाम मात्र 35 पारियों में हासिल कर लिया। विराट ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के खिलाफ भी 8-8 शतक लगा चुके हैं जबकि सचिन ने श्रीलंका के खिलाफ 8 शतक लगाए थे।

हेडन, अमला और रूट का रिकॉर्ड तोड़ा

विराट का वेस्टइंडीज में यह चौथा वनडे शतक है। वे इसी के साथ वेस्टइंडीज में वनडे में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले विदेशी बल्लेबाज बन गए। उन्होंने मैथ्यू हेडन, हाशिम अमला और जो रूट को पीछे छोड़ा, जिन्होंने कैरेबियाई धरती पर एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 3-3 शतक लगाए थे।

पोंटिंग से भी तेज निकले विराट

विराट कप्तान के रूप में 10 हजार अंतरराष्ट्रीय रन बनाने वाले छठे खिलाड़ी बने। उन्होंने 176 पारियों में यह कमाल किया और वे सबसे तेजी से इस मुकाम पर पहुंचे। इससे पहले यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग के नाम दर्ज था जिन्होंने 225 पारियों में इस मंजिल को हासिल किया था। विराट का यह वनडे कप्तान के रूप में 21वां शतक है। इस मामले में अब उनसे सिर्फ रिकी पोंटिंग है जो 22 शतक लगा चुके हैं।