कुलिज। चेतेश्वर पुजारा और रोहित शर्मा ने शानदार बल्लेबाजी कर भारत की पहली पारी को तीन दिवसीय अभ्याय मैच में वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड इलेवन (WICB XI) के खिलाफ संभाला। पुजारा (100) ने शतक लगाया जबकि रोहित (68) ने अर्द्धशतकीय पारी खेली। भारत ने पहले दिन 5 विकेट पर 297 रन बनाए।

भारत ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। अंगूठे की चोट से जूझ रहे विराट कोहली की जगह अजिंक्य रहाणे टॉस के लिए मैदान में उतरे। भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही जब मयंक अग्रवाल 12 रन बनाकर जोनाथन कार्टर की गेंद पर बोल्ड हुए। केएल राहुल के पास बड़ी पारी खेलकर अपनी उपयोगिता साबित करने का मौका था लेकिन वे 36 रन बनाकर कियोन हार्डिंग की गेंद पर शैफर्ड को कैच थमा बैठे। कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे को टेस्ट सीरीज के पहले लय हासिल करने का मौका था लेकिन वे मात्र 1 रन बनाकर कार्टर के शिकार बने और भारत 53 रनों पर 3 विकेट खोकर संघर्ष करता दिखा।

इस विषम स्थिति में पुजारा का साथ देने रोहित शर्मा क्रीज पर उतरे और इन दोनों ने पारी को संभाला। इन्होंने कैरेबियाई गेंदबाजों का शानदार तरीके से सामना कर टेस्ट सीरीज के लिए मेजबान टीम को आगाह कर दिया। इन्होंने चौथे विकेट के लिए 132 रनों की साझेदारी की। यह साझेदारी तब टूटी जब रोहित ने अकिम फ्रेजर की गेंद पर हार्डिंग को कैच थमाया। उन्होंने 115 गेंदों का सामना कर 8 चौकों और 1 छक्के की मदद से 68 रन बनाए। रिषभ पंत के पास सीमित ओवरों की सीरीज की असफलता को दूर करने का मौका था लेकिन वे 33 रन बनाकर कार्टर का शिकार बने। पुजारा ने एक छोर थामे रखा था और वे शतक पूरा कर रिटायर्ड हो गए। उन्होंने 187 गेंदों में 8 चौकों और 1 छक्के की मदद से 100 रन बनाए। पुजारा करीब 6 महीने बाद लाल गेंद से स्पर्धात्मक क्रिकेट खेल रहे थे लेकिन वे लय में नजर आए।

पहले दिन 89.5 ओवरों के बाद खेल रोके जाने के वक्त भारत ने 5 विकेट पर 297 रन बना लिए थे। हनुमा विहारी 37 और रवींद्र जडेजा 1 रन बनाकर क्रीज पर है। कार्टर ने 39 रनों पर 3 विकेट लिए जबकि हार्डिंग और फ्रेजर को 1-1 विकेट मिला।

Posted By: Kiran Waikar