नई दिल्ली। इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैचों में मिली करारी हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम अब पूर्व दिग्गजों के निशाने पर आ गई है। टीम इंडिया की इस आत्मसमर्पण के लिए आलोचना की गई, वहीं टीम की वापसी का भरोसा भी जताया गया।

वीरेंद्र सहवाग, बिशनसिंह बेदी और वीवीएस लक्ष्मण ने दूसरे टेस्ट में निराशाजनक प्रदर्शन के लिए टीम को लताड़ा। भारत यह मैच पारी और 159 रनों से हार गया और सीरीज में 0-2 से पिछड़ रहा है।

सहवाग ने ट्‍वीट किया, भारत का खराब प्रदर्शन। हम टीम के साथ है, लेकिन बगैर संघर्ष किए हारना निराशाजनक रहा। उम्मीद करते हैं कि टीम इस स्थिति से वापसी करेगी। बिशनसिंह बेदी ने लिखा, भारत का दूसरे टेस्ट में बहुत खराब प्रदर्शन रहा। समस्या क्या है यह सब जानते है, लेकिन बोलता कोई नहीं है। ‍हमारे क्रिकेटरों को चरित्र दिखाना होगा और पूरे आत्मविश्वास के साथ खेलना होगा। लॉर्ड्सस पर बल्लेबाजों का लचर प्रदर्शन चिंता की बात रही।

लक्ष्मण ने उम्मीद जताई कि अपनी गलतियों से सबक लेकर भारतीय टीम तीसरे टेस्ट मैच में वापसी करेगी। उन्होंने लिखा, विपरित परिस्थितियों और विपक्षी टीम की रणनीति को समझने में टीम इंडिया नाकाम रही और बिना लड़े आत्मसमर्पण कर बैठी। उम्मीद करता हूं कि बल्लेबाज ज्यादा जिम्मेदारी से खेलेंगे।

पूर्व भारतीय बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने कहा कि टीम का प्रदर्शन देखना निराशाजनक रहा। भारतीय टीम दोनों पारियों में कुल मिलाकर 82 ओवर ही खेल पाई। इंग्लैंड ने सभी क्षेत्रों में भारत को पीछे छोड़ा।

पूर्व बल्लेबाज विनोद कांबली ने कहा, भारत का दूसरे टेस्ट में नजरिया रक्षात्मक रहा, हमारे बल्लेबाजों ने विपक्षी गेंदबाजों को हावी होने का मौका दिया। बल्लेबाजों को अपना नैसर्गिक प्रदर्शन करना चाहिए।

Posted By:

  • Font Size
  • Close