सेंचुरियन, एजेंसी। लगातार दो शर्मनाक हार के साथ वन-डे श्रृंखला गंवाने वाली भारतीय टीम दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला से पहले अपना खोया आत्मविश्वास लौटाने के लिए बुधवार को तीसरा और अंतिम वन-डे मैच जीतने के इरादे से मैदान में उतरेगी।

पहले दोनों मैचों की हार ने दक्षिण अफ्रीका की तेज और उछालभरी पिचों पर भारत के बल्लेबाजी कौशल की कलई खोल दी है। वॉण्डरर्स पर पहले वन-डे में भारत को 141 रनों से पराजय झेलनी पड़ी थी, जबकि किंग्समीड में दूसरे मैच में उसने 136 रन से हार मिली। अब वह श्रृंखला के 0-3 के शर्मनाक परिणाम से बचना चाहेगी। साथ ही टेस्ट श्रृंखला से पहले अपनी स्थिति कुछ मजबूत करने पर ध्यान देगी।

भारत की गेंदबाजी पर सवालों के साथ शुरू हुई श्रृंखला में दो मैचों के बाद युवा बल्लेबाजी क्रम पर भी अंगुलियां उठने लगीं।

पहले वन-डे में गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन से बल्लेबाजों पर दबाव बना था, लेकिन दूसरे वन-डे में ये बहाने नहीं चल सके, क्योंकि अपेक्षाकृत धीमी पिच पर भी नतीजा समान रहा। दोनों वन-डे मैचों में डेल स्टेन का शुरुआती स्पैल भारत के लिए कहर साबित हुआ और उनके पांच ओवर पूरे होते-होते मैच का नतीजा दीवार पर लिखी इबारत की तरह साफ हो गया। इस श्रृंखला से पहले भारत के शीर्षक्रम के सभी बल्लेबाज फॉर्म में थे और इस साल 1000 से भी अधिक वन-डे रन बना चुके थे। रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली सभी विफल रहे हैं। आखिरी ओवरों में हालात के अनुसार महेंद्रसिंह धोनी की बल्लेबाजी भी अहम होगी।

भारतीय टीम पर तीसरे मैच में काफी दबाव होगा, क्योंकि एक तरफ तो उनका सामना दुनिया के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाज से है। सुरेश रैना और युवराज सिंह का खराब फॉर्म भी चिंता का सबब बना हुआ है। इस श्रृंखला से ठीक पहले भी दोनों का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं था। ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत में नौ वन-डे मैचों में उनका निजी औसत 20 के करीब रहा था। दूसरे वन-डे में जब दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज सभी भारतीय गेंदबाजों की धुनाई कर रहे थे, तब रैना और विराट कोहली के नौ ओवर किफायती साबित हुए।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस