मल्टीमीडिया डेस्क। भारत के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने शनिवार को हैदराबाद में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में खास मुकाम हासिल कर लिया। जडेजा इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में 2000 रन बनाने और 150 विकेट लेने वाले ऑलराउंडरों के ग्रुप में शामिल हो गए।

30 वर्षीय जडेजा यह करिश्मा करने वाले कपिल देव और सचिन तेंडुलकर के बाद भारत के तीसरे ऑलराउंडर बन गए।

जडेजा हैदराबाद वनडे से पहले 148 मैचों में 30.61 की औसत से 1990 रन बनाने के साथ ही 3560 की औसत से 171 विकेट ले चुके थे। उन्हें यह खास मुकाम हासिल करने के लिए मात्र 10 रन और बनाने थे। जडेजा ने कंगारू टीम के गेंदबाज ग्लेन मैक्सवेल की गेंद पर 1 रन लेकर अपने स्कोर को 10 तक पहुंचाने के साथ ही यह मुकाम हासिल कर लिया।

जडेजा से पहले इस स्पेशल ग्रुप में भारत की तरफ से सिर्फ कपिल देव और सचिन तेंडुलकर शामिल थे। कपिल देव ने 225 मैचों में 23.79 की औसत से 3783 रन बनाए थे, इसमें उनका एक शतक शामिल था। इसी तरह उन्होंने 27.45 की औसत से 253 विकेट लिए थे। इस सूची में तेंडुलकर दूसरे भारतीय ऑलराउंडर बने थे। उनके नाम 463 मैचों में 44.83 की औसत से 18426 रन और 44.48 की औसत से 154 विकेट दर्ज है। सचिन ने अंतरराष्ट्रीय वनडे में सर्वाधिक 49 शतक लगाए थे।

जडेजा ने 8 फरवरी 2009 को कोलंबो में श्रीलंका के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय वनडे डेब्यू किया था। उन्होंने 13 दिसंबर को नागपुर में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया और वे अभी तक 41 टेस्ट मैचों में 1485 रन बनाने के साथ ही 192 विकेट ले चुके हैं। वे 40 टी20 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व कर 116 रन बनाने के साथ ही 31 शिकार भी कर चुके हैं।

Posted By: