हैमिल्टन। India vs New Zealand 3rd T20I: भारत ने न्यूजीलैंड को लगातार 2 मैचों में हराकर 5 मैचों की टी20 सीरीज में 2-0 की बढ़त ले ली है। टीम इंडिया इस समय शानदार फॉर्म में हैं। उसके गेंदबाज और बल्लेबाज दोनों ही कमाल का प्रदर्शन कर रहे हैं। ऐसे में अब मेजबान न्यूजीलैंड के खिलाड़ी खुद पर दबाव महसूस कर रहे हैं। टीम के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल और विकेटकीपर बल्लेबाज टिम सीफर्ट ने भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के प्रदर्शन को जबर्दस्त बताया। गप्टिल ने तो यहां तक कह दिया कि हम उम्मीद करेंगे कि सीरीज के अगले तीन मैचों में बुमराह बेहद खराब प्रदर्शन करें।

गप्टिल ने की बुमराह की तारीफ

भारत और न्यूजीलैंड के बीच सीरीज का तीसरा टी20 मैच 29 जनवरी बुधवार को खेला जाएगा। लगातार 2 मैचों में मिली हार के बाद कीवी टीम के बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल ने कहा- हम दुआ करेंगे कि सीरीज के बाकी 3 मैचों में बुमराह खराब प्रदर्शन करें। वे स्लॉग ओवर के दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं। उनके पास शानदार स्लोअर और बाउंसर है। ऐसे में उनका सामना करना किसी भी बल्लेबाज के लिए बहुत मुश्किल होता है।

गप्टिल ने दूसरे मैच को लेकर कहा- दूसरे मैच में पिच थोड़ी धीमी हो गई थी और स्पिनर्स के लिए ज्यादा मददगार होती जा रही थी। जब मैं और कॉलिन मुनरो क्रीज पर थे तब गेंद बल्ले पर आ रही थी, लेकिन बाद में विकेट धीमा होता गया और हमने लय खो दी। भारतीय गेंदबाजों ने बेहद कसी हुई गेंदबाजी की। बाद में उनकी ओर से केएल राहुल और श्रेयस अय्यर ने उम्दा साझेदारी कर मैच जीत लिया। दरअसल टीम इंडिया में कई मैच विनर खिलाड़ी हैं।

सीफर्ट ने बुमराह को बताया खतरनाक

वहीं न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज टिम सीफर्ट ने भी जसप्रीत बुमराह की विविधतापूर्ण गेंदबाजी बेहद मुश्किल बताया। सीफर्ट ने कहा- बुमराह के पास इतनी वैरायटी है कि उन्हें खेलना और समझना मुश्किल होता है। पहले दोनों मैचों में बुमराह ने तेज गेंदों के बीच धीमी गेंदों का बेहतरीन उपयोग किया। इससे हमारे बल्लेबाज पूरे समय कन्फ्यूज रहे। आम तौर पर डेथ ओवरों में गेंदबाज सीधी लाइन पर गेंद करता है.. इसके अलावा यॉर्कर डालता है। लेकिन बुमराह अलग ही हैं। उनकी गेंदों के बारे में अनुमान लगाना बेहद मुश्किल होता है।

सीफर्ट ने टीम इंडिया के खेल की तारीफ करते हुए कहा- टीम इंडिया परिस्थितियों में काफी जल्दी ढल जाती है।उसके बल्लेबाज परिस्थिति के मुताबिक तुरंत अपना खेल बदलते हैं और तालमेल बिठाते हैं। हमें उनसे यही सब सीखने की जरुरत है। भारतीय बल्लेबाजों ने दिखाया कि कैसे गेंद की लाइन में आकर सही टाइमिंग से उसे खेलना है। धीमे विकेट पर कैसे अलग तरह से बल्लेबाजी की जाती है। ऐसा नहीं है कि हमारे गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया, लेकिन भारतीय बल्लेबाज बाद में पूरी तरह हावी रहे। दोनों मैचों में हमने शुरुआत में ही विकेट लिया, लेकिन बाद में हम उन्हें दबाव में नहीं ला पाए।

बहरहाल बता दें कि भारत ने न्यूजीलैंड को दूसरे टी20 मैच में 7 विकेट से हराया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड की टीम 20 ओवर में 5 विकेट पर 132 रन ही बना सकीं। भारत की ओर से रवींद्र जडेजा ने 18 रन देकर 2 विकेट लिए। वहीं बुमराह ने 21 रन देकर 1 विकेट लिया। जवाब में भारत ने 17.3 ओवरों में 3 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

Posted By: Rahul Vavikar