India Vs New Zealand, 1st Test : 25 नवंबर से कानपुर में भारत और न्यूजीलैंड के बीच इस सीरीज का पहला मैच होने जा रहा है। ये मैच कई मायनों में टीम इंडिया का टेस्ट है, क्योंकि पहली बार इसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी जैसे बड़े खिलाड़ी शामिल नहीं होंगे। ताजा जानकारी के मुताबिक पहले मैच में केएल राहुल भी नहीं खेल पाएंगे। पैर में स्ट्रेन की वजह से उन्हें आराम देने का फैसला किया गया है। उनकी जगह पर सूर्यकुमार यादव टीम में शामिल किये गये हैं। सूर्यकुमार यादव टेस्ट क्रिकेट में अभी नए हैं और उन्होंने डेब्यू भी नहीं किया है। उनको इससे पहले टीम में शामिल नहीं किया गया था, बल्कि अतिरिक्त खिलाड़ी के तौर पर कानपुर बुलाया गया था। अब उन्हें पहला टेस्ट खेलने का मौका मिलने वाला है। BCCI ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

किसे मिलेगा मौका?

फिलहाल बड़े खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में टीम मैनेजमेंट के लिए अंतिम 11 खिलाड़ियों का चयन काफी मुश्किल भरा हो सकता है। अनुभव और प्रतिभा के बीच समन्वय बिठाना आसान नहीं होगा। वहीं, कुछ युवा खिलाड़ियों को पहली बार टेस्ट मैच में खेलने का और अपनी क्षमता साबित करने का मौका मिल सकता है। जैसे सूर्यकुमार यादव की ही तरह लंबे समय से टीम इंडिया के लिए वनडे और टी20 क्रिकेट खेल रहे श्रेयस अय्यर को न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली बार टेस्ट सीरीज में चुना गया है। माना जा रहा है कि अपनी पहली ही सीरीज में श्रेयस अय्यर को डेब्यू करने का मौका मिल सकता है।

किसे मिलेगी ओपनिंग की जिम्मेदारी?

केएल राहुल के चोटिल होने के बाद मयंक अग्रवाल के साथ शुभमन गिल के ओपनिंग करने की संभावना बढ़ गई है। पहले माना जा रहा था कि शुभमन गिल को उनकी आक्रामक स्टाइल की वजह से मध्य क्रम में मौका मिल सकता है। लेकिन अब मध्य क्रम के लिए सूर्य कुमार यादव का नाम लगभग तय है, जो जरुरत पड़ने पर विस्फोटक बल्लेबाजी भी कर सकते हैं।

कौन संभालेगा मध्य क्रम?

चेतेश्वर पुजारा ने इंग्लैंड में ख़ास प्रदर्शन नहीं किया था, लेकिन इंग्लैंड में भारत के तीसरे सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ को कानपुर में उनका पसंदीदा नंबर तीन स्थान मिल सकता है। वहीं, अपना स्थान गंवाने का दबाव झेल रहे अजिंक्य रहाणे, कोहली की अनु​पस्थिति में टीम के कप्तान होंगे, और चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आ सकते हैं। इनके बाद सूर्यकुमार यादव पारी को संभालेंगे।

ऋषभ पंत की अनुपस्थिति में टीम मैनेजमेंट को फैसला करना होगा कि छठे बल्लेबाज को मौका देना है, या ऑलराउंडर को, जो लंबे स्पेल में बॉलिंग कर सके। अगर छठे बल्लेबाज की जरुरत महसूस हुई, तो श्रेयस अय्यर को मौका मिल सकता है। उसके अलावा विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर ऋद्धिमान साहा टीम होंगे ही, जो डिफेंसिव बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। वहीं नये खिलाड़ी को मौका देने का विचार हुआ तो बैकअप विकेटकीपर के तौर पर केएस भरत भी हैं।

गेंदबाज़ों में किसे मिलेगा मौका ?

रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जाडेजा भारत के दो मुख्य स्पिनर होंगे और भारत इसी के साथ दो तेज़ गेंदबाज़ों को खिलाएगा। इसमें इशांत शर्मा, उमेश यादव या मोहम्मद सिराज में से किन्हीं दो को मौका मिलेगा। वहीं अगर टीम ने छठे बल्लेबाज की जगह गेंदबाज को लेने का फैसला किया, तो तीनों पास्ट बॉलर शामिल किये जा सकते हैं। लेकिन अगर तीसरे स्पिनर को शामिल करने का फैसला हुआ, तो अक्षर पटेल को मौका मिल सकता है। लेकिन यह तमाम फ़ैसले पिच की स्थिति, मौसम और मौजूदा परिस्थितियों को देखकर लिया जाएगा।

Posted By: Shailendra Kumar