पुणे। India vs South Africa 2nd Test: सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (109) ने अपना शानदार फॉर्म बरकरार रखते हुए गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में भी शानदार शतक जमाया। भारत ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में 85.1 ओवरों में 3 विकेट पर 273 रन बनाए। कप्तान विराट कोहली 63 और अजिंक्य रहाणे 18 रन बनाकर क्रीज पर हैं। इससे पहले चेतेश्वर पुजारा ने भी 58 रनों की शानदार पारी खेली।

मयंक ने विशाखापट्टनम में हुए पहले टेस्ट की पहली पारी में दोहरा शतक जमाया था और यहां पुणे टेस्ट की पहली पारी में भी शतक जमाया। उन्होंने टी ब्रेक बाद फिलेंडर की गेंद पर शानदार चौका जमाकर 182 गेंदों पर अपना दूसरा शतक पूरा किया। इस पारी में उन्होंने 16 चौके और 2 छक्के लगाए।

इससे पहले भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। भारत को पहला झटका जल्दी लग गया जब पहले टेस्ट मैच में धमाकेदार प्रदर्शन करने वाले रोहित इस बार सस्ते में आउट हो गए। रबाडा ने रोहित शर्मा (14) को विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक के हाथों झिलवाया। रोहित ने ओपनर के रूप में अपने पहले टेस्ट मैच में विशाखापत्तनम में दोनों पारियों में शतक लगाए थे। भारत को पहला झटका 25 के स्कोर पर लगा। पुजारा भाग्यशाली रहे क्योंकि जब उन्होंने खाता भी नहीं खोला था तब कगिसो रबाडा की गेंद पर तेंबा बावुमा ने फॉरवर्ड शॉर्ट लेग पर उनका कैच छोड़ा था।

मयंक ने केशव महाराज की गेंद पर चौका लगाकर अर्द्धशतक पूरा किया। वे 112 गेंदों में 10 चौकों की मदद से फिफ्टी तक पहुंचे। यह उनकी चौथी टेस्ट फिफ्टी है। पुजारा ने केशव महाराज की गेंद पर चौका लगाकर फिफ्टी पूरी की। वे 107 गेंदों में 8 चौकों और 1 छक्के की मदद से अर्द्धशतक तक पहुंचे। यह उनकी टेस्ट क्रिकेट में 22वीं फिफ्टी है। वे इसके बाद ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक पाए और 58 रन बनाकर रबाडा की गेंद पर स्लिप में डु प्लेसिस को कैच थमा बैठे। उन्होंने मयंक के साथ दूसरे विकेट के लिए 138 रनों की साझेदारी की। मयंक ने फिलेंडर की गेंद पर चौका लगाकर शतक पूरा किया। यह उनका सीरीज में दूसरा शतक है, उन्होने पहले टेस्ट मैच में पहली पारी में 215 रन बनाए थे। वे द. अफ्रीका के खिलाफ लगातार दो टेस्ट में शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज बने। वे 108 रन बनाकर रबाडा की गेंद पर स्लिप में प्लेसिस को कैच थमा बैठे।

इसके बाद कप्तान विराट और रहाणे ने दक्षिण अफ्रीका को कोई सफलता हाथ नहीं लगने। दोनों ने दिन का खेल समाप्त होने तक चौथे विकेट के लिए 75 रनों की पार्टनरशिप कर दी है। कोहली ने अपने करियर का 23वां अर्द्धशतक पूरा किया। कोहली फिलहाल 63 रन (105 गेंद, 10 चौके) बनाकर खेल रहे हैं। वहीं रहाणे के 18 रनों में 3 चौके शामिल हैं।

भारत ने प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव कर हनुमा विहारी की जगह उमेश यादव को शामिल किया। द अफ्रीका ने डेन पिट की जगह एनरिच नोर्त्जे को शामिल किया।

पुणे में पिछले कुछ दिनों से नियमित रूप से बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार मैच के पांचों दिन दोपहर में बारिश की आशंका है। विशाखापत्तनम में पहले टेस्ट मैच में भी बारिश की वजह से खेल थोड़ा प्रभावित हुआ था। भारत ने यह मैच 203 रनों से जीता था और इसके चलते उसके खिलाड़ी बढ़े हुए मनोबल के साथ पुणे में मैदान में उतरेंगे। मेहमान टीम इस मैच को जीत हर हाल में बराबरी हासिल करना चाहेगी।

यह इस स्टेडियम पर दूसरा टेस्ट मैच होगा। इससे पहले इस मैदान पर 2017 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट मैच खेला गया था जिसमें कंगारू टीम ने भारत को तीन दिनों में 333 रनों से हरा दिया था। भारत अब दक्षिण अफ्रीका को हराकर इस मैदान पर अपना रिकॉर्ड बेहतर करने के लिए पूरी ताकत लगाएगा लेकिन उसे यह दुआ करनी होगी कि बारिश उसकी राह में विलेन नहीं बन जाए।

रोहित शर्मा ने टेस्ट ओपनर के रूप में पिछले मैच से धमाकेदार अंदाज में नई शुरुआत की थी और वे उसी फॉर्म को बनाए रखना चाहेंगे। मयंक अग्रवाल ने पिछले टेस्ट की पहली पारी में दोहरा शतक लगाया था और वे उसी लय को कामय रखने की कोशिश करेंगे। कप्तान विराट अन्य बल्लेबाजों से भी बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे। भारतीय गेंदबाजों ने पहले टेस्ट मैच में कमाल किया था और वे उसी तरह जीत में योगदान देना चाहेंगे।

दक्षिण अफ्रीकी टीम पहले टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई थी और इसके चलते मेहमान टीम प्रबंधन को अपने खिलाड़ियों से इस मैच में सुधरे हुए प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी। मेहमान टीम की तरफ से डीन एल्गर और क्विंटन डी कॉक को छोड़ कोई बल्लेबाज चल नहीं पाया था। उसके गेंदबाजों का प्रदर्शन तो लचर रहा था।

टीमें - भारत: रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, रिद्धिमान साहा, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, ईशांत शर्मा।

दक्षिण अफ्रीका : डीन एल्गर, एडन मार्करैम, थियूनिस डी ब्रूइन, तेंबा बावुमा, फॉफ डु प्लेसिस (कप्तान), क्विंटन डी कॉक, सेनुरान मुथुसामी, वर्नोन फिलेंडर, केशव महाराज, कगिसो रबाडा, एनरिच नोर्त्जे।