बेंगलुरु। कप्तान क्विंटन डि कॉक की शानदार नाबाद पारी से दक्षिण अफ्रीका ने भारत को टी 20 सीरीज के तीसरे व अंतिम मैच में 9 विकेट से हरा दिया। इसी के साथ उसने सीरीज 1-1 की बराबरी पर समाप्त की। भारत द्वारा निर्धारित 135 रनों के लक्ष्य को दक्षिण अफ्रीका ने 16.5 ओवरों में केवल 1 विकेट खोकर हासिल कर लिया। डि कॉक ने 79 रनों की नाबाद पारी खेली। उनके अलावा रीजा हेंड्रिक्स ने 28 और तेंबा बावुमा ने नाबाद 27 रन बनाए। डि कॉक को प्लेयर ऑफ द सीरीज और ब्यूरन हेंड्रिक्स को प्लेयर ऑफ द मैच घोषित किया गया।

लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका को डि कॉक और रीजा हेंड्रिक्स की सलामी जोड़ी ने शानदार शुरुआत दी। दोनों ने पहले विकेट के लिए 76 रनों की पार्टनरशिप की। इसमें से डि कॉक की बल्लेबाजी पूरे शबाब पर रही। डि कॉक ने भारत में खेलने के अपने अनुभव का पूरा फायदा उठाया और शानदार अर्द्धशतक जमाया। रीजा हेंड्रिक्स के रूप में भारत को पहली सफलता मिली। हार्दिक पांड्या ने उन्हें कोहली के हाथों कैच कराया। हेंड्रिक्स ने 26 गेंदों में 4 चौकों की मदद से 28 रन बनाए। इसके बाद डि कॉक ने अपना अर्द्धशतक पूरा किया। बाद में डि कॉक ने तेंबा बावुमा को साथ लेकर टीम को जीत तक पहुंचाया। डि कॉक ने 52 गेंदों की अपनी पारी में 6 चौकों और 5 छक्कों की मदद से 79 रन बनाए। वे अंत तक आउट नहीं हुए। वहीं तेंबा बावुमा भी 27 रन (23 गेंद, 2 चौके, 1 छक्का) बनाकर नाबाद रहे। इसी के साथ 3 मैचों की ये सीरीज 1-1 से बराबर रही।

इससे पहले भारत ने निर्धारित 20 ओवरों में 9 विकेट पर 134 रन बनाए। भारत के लिए शिखर धवन ने सबसे ज्यादा 36 रन बनाए। जबकि रिषभ पंत और रवींद्र जडेजा ने 19-19 रनों की पारियां खेलीं।

Innings Break!

After opting to bat first, #TeamIndia post a total of 134/9 after 20 overs.

Updates - https://t.co/LcO4kVOSNZ #INDvSA pic.twitter.com/sfKMNpr4GI

— BCCI (@BCCI) September 22, 2019

भारत ने रोहित शर्मा के रुप में पहला विकेट खोया, जो केवल 9 रन बना सके। रोहित को ब्यूरन हेंड्रिक्स की गेंद पर रीजा हेंड्रिक्स ने कैच किया। इसके बाद शिखर धवन और कप्तान विराट कोहली ने भारतीय पारी को आगे बढ़ाया। खासतौर से शिखर जबर्दस्त रंग में दिखे। उन्होंने काफी तेजी से रन बटोरे। शिखर ने 25 गेंदों का सामना करते हुए 4 चौकोंं और 2 छक्कों की मदद से 36 रन बनाए। उन्हें शम्सी ने बुवामा के हाथों कैच कराया। इसके बाद विराट भी आउट हो गए। रबाडा की गेंद पर फेहुलकवायो ने कैच किया। विराट 9 रन बना सके।

इसके बाद भारतीय पारी में विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया। रिषभ पंत अपनी आलोचनाओं से कोई सीख नहीं ले रहे हैं। इस मुकाबले में भी उन्होंने जमने के बाद अपना विकेट गंवाया। पंत ने 20 गेंदों में 19 रन (1 चौका, 1 छक्का) बनाए। इसके बाद श्रेयस अय्यर 5 और कृणाल पांड्या 4 रन बनाकर आउट हुए। दक्षिण अफ्रीका के लिए रबाडा ने 3 विकेट लिए, जबकि बोर्न फॉर्चून और ब्यूरन हेंड्रिक्स को 2-2 विकेट मिले।

इसके बाद हार्दिक पांड्या और रवींद्र जडेजा ने अंत में कुछ रन बटोरे। दोनों ने 7वें विकेट के लिए 29 रन बनाए। जडेजा ने 17 गेंदों में 19 रन (1 चौका, 1 छक्का) और हार्दिक ने 18 गेंदों में 14 रन (1 चौका) बनाए।

इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। दोनों ही टीमों के लिए ये मैच बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि इसे जीतकर जहां टीम इंडिया सीरीज पर 2-0 से कब्जा करना चाहेगी, वहीं प्रोटीज टीम सीरीज में 1-1 से बराबर हासिल करना चाहेगी।

धर्मशाला में पहला मैच वॉशआउट हुआ था। वहीं मोहाली में हुए दूसरे मैच में भारत ने 7 विकेट से जीत हासिल की। भारतीय टीम में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है और वही टीम उतरी है जो मोहाली में खेली थी। उधर दक्षिण अफ्रीका की टीम में एक परिवर्तन किया गया है। एनरिच नोर्टजे के स्थान पर हेंड्रिक्स को शामिल किया गया है।

टीमें : भारत - रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, कृणाल पांड्या, वॉशिंगटन सुंदर, दीपक चाहर, नवदीप सैनी।

दक्षिण अफ्रीका - क्विंटन डि कॉक (कप्तान व विकेट कीपर), रीजा हेंड्रिक्स, रासी वान डेर डुसेन, तेंबा बावुमा, ब्यूरन हेंड्रिक्स, डेविड मिलर, एंडिले फेहुलकवायो, ड्वेन प्रीटोरियस, बोर्न फॉर्चून, कगिसो रबाडा, तबरेज शम्सी।