बेंगलुरु (एजेंसियां)। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टी 20 सीरीज का तीसरा और अंतिम मैच 22 सितंबर रविवार को खेला जाएगा। ये मुकाबला दोनों ही टीमों के लिए बेहद महत्वपूर्ण होगा क्योंकि एक तरफ जहां टीम इंडिया इस मुकाबले को जीतकर सीरीज पर 2-0 से कब्जा करना चाहेगी, वहीं प्रोटीज टीम इस मैच को जीतकर सीरीज 1-1 से बराबर करना चाहेगी।

धर्मशाला में पहला मैच बारिश के कारण नहीं खेला जा सका और रद्द हो गया, वहीं मोहाली में हुआ दूसरा मैच भारत ने 7 विकेट से जीता। इस वजह से बेंगलुरु का मैच सीरीज डिसाइडर हो गया है। इस मुकाबले में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन काफी महत्वपूर्ण होगी। रिषभ पंत के फॉर्म पर सभी की निगाहें रहेंगी क्योंकि पंत पिछले काफी समय से ढेरों मौकों पर नाकाम रहे हैं। वर्ल्ड कप के वेस्टइंडीज में भी उनका खराब फॉर्म रहा और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के दूसरे मैच में भी वे केवल 4 रन बना सके। ऐसे में देखना होगा कि सीरीज डिसाईडर में उनके बल्ले से कितने रन निकलते हैं।

टीम इंडिया की ताकत

पिछले कुछ समय में बल्लेबाजी का शीर्ष क्रम ही भारत की सबसे बड़ी ताकत रही है। शिखर धवन, रोहित शर्मा की सलामी जोड़ी के अलावा तीसरे नंबर पर कप्तान विराट कोहली की मौजूदगी में टीम काफी रन बना रही है। विराट जबर्दस्त फॉर्म में हैं और वे अपनी लय बरकरार रखना चाहेंगे। मध्यक्रम में श्रेयस अय्यर, हार्दिक पांड्या और रवींद्र जडेजा मौजूदगी में बैटिंग लाइनअप में काफी गहराई है। वहीं गेंदबाजी में तेज गेंदबाज दीपक चाहर, नवदीप सैनी, वॉशिंगटन सुंदर शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। जडेजा भी विकेट लेने में कामयाब हो रहे हैं।

डी कॉक से उम्मीदें

उधर दक्षिण अफ्रीका की टीम पूरी तरह से नए कप्तान क्विंटन डि कॉक पर निर्भर नजर आ रही है। डी कॉक ने पिछले मैच में शानदार बल्लेबाजी की, लेकिन उनके अलावा केवल तेंबा बावुमा ही रन बना पाए। शेष बल्लेबाज उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे। इसका परिणाम ये हुआ कि दक्षिण अफ्रीकी टीम अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाई और एक समय वो बड़े स्कोर की ओर बढ़ रही थी, भारतीय गेंदबाजों ने उसे सामान्य स्कोर पर रोक दिया।बहरहाल टीम को डेविड मिलर, रीजा हेंड्रिक्स, रबाडा जैसे अनुभवी खिलाड़ियों से उम्मीदें हैं।

संभावित टीमें : भारत - रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रिषभ पंत, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, कृणाल पांड्या, वॉशिंगटन सुंदर, राहुल चाहर, दीपक चाहर, नवदीप सैनी।

दक्षिण अफ्रीका - क्विंटन डिकॉक (कप्तान व विकेट कीपर), रीजा हेंड्रिक्स, रासी वान डेर डुसेन, तेंबा बावुमा, ब्यूरन हेंड्रिक्स, डेविड मिलर, एंडिले फेहुलकवायो, ड्वेन प्रीटोरियस, बोर्न फॉर्चून, कगिसो रबाडा, एनरिच नोर्टजे, तबरेज शम्सी।