मल्टीमीडिया डेस्क। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा और अंतिम टी20 मैच रविवार को एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा। भारत इस मैच को जीतकर सीरीज अपने नाम करना चाहेगा और कप्तान विराट कोहली का इरादा एक और मैच विजयी पारी खेलने का रहेगा। विराट की निगाहें इसके साथ ही ग्लेन मैक्सवेल और महेंद्रसिंह धोनी के रिकॉर्ड पर भी टिकी रहेंगी।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सीरीज का पहला मैच धर्मशाला में बारिश की भेंट चढ़ा था। इसके बाद विराट कोहली ने मोहाली में दूसरे मैच में नाबाद अर्द्धशतकीय पारी खेलकर भारत को 7 विकेट से जीत दिलाई थी।

चिन्नास्वामी स्टेडियम विराट का दूसरा घर है क्योंकि वे आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बंगलोर (RCB) का प्रतिनिधित्व करते हैं। भारतीय टीम ने इस मैदान में चार इंटरनेशनल टी20 मैच खेले और विराट चारों मैचों में शामिल रहे। उन्होंने इस दौरान 35.66 की औसत से 107 रन बनाए हैं, इसमें एक अर्द्धशतकीय पारी शामिल है। इसके बावजूद वे इस मैदान पर इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में तीसरे क्रम पर हैं।

यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल के नाम पर है जिन्होंने 2 मैचों में 139 की औसत से 139 रन बनाए हैं। महेंद्रसिंह धोनी चार मैचों में 56 की औसत से 110 रन बनाकर दूसरे क्रम पर है। विराट ने दूसरे मैच में नाबाद 72 रन बनाए थे और यदि वे तीसरे टी20 मैच में 31 रन बना लेंगे तो मैक्सवेल का रिकॉर्ड तोड़ इस मैदान पर सबसे ज्यादा इंटरनेशनल टी20 रन बनाने वाले बल्लेबाज बन जाएंगे। विराट चार रन बनाते ही धोनी को पीछे छोड़ दूसरे क्रम पर पहुंच जाएंगे।

चहल सबसे सफल गेंदबाज :

इस मैदान पर इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड युजवेंद्र चहल के नाम दर्ज है। चहल 2 मैचों में 12 की औसत से 6 विकेट लेकर लिस्ट में पहले क्रम पर है। इसके बाद संयुक्त रूप से बांग्लादेश के दो गेंदबाजों का नंबर आता है। शाकिब अल हसन और मुस्ताफिजुर रहमान 4-4 विकेट ले चुके हैं।