दुबई। भारतीय कप्तान विराट कोहली को बेंगलुरु में रविवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे और अंतिम टी20 मैच के दौरान आचार संहिता के लेवल वन के उल्लंघन का दोषी पाया गया। आईसीसी ने उन्हें आधिकारिक रूप से फटकारा और उनके खाते में एक डीमैरिट अंक जोड़ा गया। दक्षिण अफ्रीका ने इस मैच में भारत को 9 विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली थी।

विराट ने आईसीसी की आचार संहिता की धारा 2.12 का उल्लंघन किया। किसी इंटरनेशनल मैच में खिलाड़ी, अंपायर, मैच रैफरी या किसी व्यक्ति को अनुचित तरीके से छूने पर इस धारा का उल्लंघन होता है। विराट ने भारतीय पारी के पांचवें ओवर में रन दौड़ने के दौरान गेंदबाज ब्यूरेन हैंड्रिक्स को कंधे से टक्कर मारी थी। कोहली ने इस आरोप को स्वीकारा और उन्होंने आईसीसी एलिट पैनल के मैच रैफरी रिची रिचर्डसन द्वारा सुनाई गई सजा को मान लिया, इसलिए आधिकारिक सुनवाई की आवश्यकता नहीं पड़ी।

मैदानी अंपायर्स नितिन मेनन, सीके नंदन, थर्ड अंपायर अनिल चौधरी और रिजर्व अंपायर सी. शमसुद्दीन ने विराट पर यह आरोप लगाए थे। लेवल वन के आरोपों के उल्लंघन पर न्यूनतम आधिकारिक फटकार और अधिकतम 50 प्रतिशत मैच फीस का जुर्माना लगाया जा सकता है। इसमें एक या दो डीमैरिट अंक जोड़े जा सकते हैं।

कोहली के अनुशासनात्मक रिकॉर्ड में एक डीमैरिट अंक जोड़ा गया, इस तरह उनके खाते में सितंबर 2016 के बाद कुल 3 डीमैरिट अंक हो गए हैं। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 15 जनवरी 2018 को प्रिटोरिया टेस्ट मैच और 2019 वर्ल्ड कप में 22 जून को अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में 1-1 डीमैरिट अंक जोड़ा गया था।