रांची। India vs South Africa 3rd Test: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा और अंतिम टेस्ट मैच शनिवार से यहां शुरू होगा। टीम इंडिया 2-0 की अपराजेय बढ़त के साथ पहले ही सीरीज पर कब्जा जमा चुकी है। झारखंड राज्य क्रिकेट एसोसिएशन (जेएससीए) की पिच को देखते हुए भारत इस मैच में एक अतिरिक्त स्पिनर को प्लेइंग इलेवन में शामिल कर सकता है। दक्षिण अफ्रीका प्रतिष्ठा बचाने के लिए इस मैच में पूरी ताकत लगाएगी।

वैसे तो भारतीय कप्तान विराट कोहली टीम में बदलाव के पक्षधर नहीं होते हैं और विनिंग टीम में तो बदलाव कम ही करते हैं लेकिन रांची की पिच के मद्देनजर वे इस मैच में चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को मैदान में उतार सकते हैं। कुलदीप ने गुरुवार को एक घंटे से ज्यादा समय तक नेट्स पर गेंदबाजी भी की। कुलदीप यदि खेले तो उमेश यादव को बाहर बैठना पड़ सकता है।

गुरुवार को कुलदीप काफी समय तक चीफ कोच रवि शास्त्री की निगरानी में गेंदबाजी करते रहे। भारत के अनुभवी स्पिनरों रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा ने इस सीरीज में दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों की हालत खराब कर रखी है और कुलदीप के आने से उनकी मुसीबतें और बढ़ जाएंगी। तेज गेंदबाजी आक्रमण की कमान मोहम्मद शमी और ईशांत शर्मा के कंधों पर रहेगी।

टॉस रहेगा महत्वपूर्ण : भारत में टेस्ट मैचों में टॉस हमेशा से ही महत्वपूर्ण रहता आया है क्योंकि चौथे-पांचवें दिन टर्न होती पिच पर कोई भी टीम दूसरी पारी में बल्लेबाजी करना पसंद नहीं करती है। इसके चलते भारत में हर टीम टॉस जीतकर पहली पारी में बड़ा स्कोर बनाना चाहती है ताकि विपक्षी टीम को दवाब में लाया जा सके। भारत ने शुरुआती दोनों मैचों में टॉस जीते और फिर मैच भी जीते। मेहमान कप्तान फॉफ डु प्लेसिस इस मैच में टॉस जीतना चाहेंगे ताकि उन्हें यह देखते आए कि पहले बल्लेबाजी कर उनकी टीम कितना बड़ा स्कोर खड़ा कर पाएगी।

जेएससीए स्टेडियम में अच्छी बल्लेबाजी करने वाली टीम को मुश्किल नहीं होती है। इस पिच पर गेंद तीसरे दिन से टर्न करना शुरू कर देगी और इसके चलते मेहमान टीम की परेशानी बढ़ जाएगी।

मार्करैम और महाराज की कमी खलेगी

मेहमान टीम को इस मैच में नियमित ओपनर ऐडन मार्करैम और स्पिनर केशव महाराज के बिना खेलना होगा। महाराज को दूसरे टेस्ट में कंधे की चोट लगी थी और इसके चलते वे इस मैच में नहीं खेलेंगे। मार्करैम पुणे में दूसरे टेस्ट में आउट होने के बाद खुद से इतने नाराज हो गए थे कि उन्होंने ड्रेसिंग रूम में लौटकर उन्होंने मुक्का किसी ठोस चीज पर दे मारा था जिसके चलते उन्हें कलाई में फ्रेक्चर हो गया था और वे अंतिम टेस्ट से बाहर हो गए थे।

Posted By: Kiran Waikar