रांची (एजेंसियां)। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सीरीज का तीसरा और अंतिम टेस्ट 19 अक्टूबर शनिवार से शुरू होगा। इस मुकाबले में जहां टीम इंडिया क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगी, वहीं प्रोटीज टीम चाहेगी कि सीरीज में उसे कुछ सम्मान हासिल हो। भारत विशाखापट्टनम और पुणे टेस्ट जीतकर 2-0 की अपराजेय बढ़त ले चुका है।

सीरीज के पहले दोनों टेस्ट मैचों में भारत पूरी तरह हावी रहा है। उसने दक्षिण अफ्रीका को खेल के हर क्षेत्र में मात दी है। भारतीय बल्लेबाज जहां जबर्दस्त प्रदर्शन कर रहे हैं, वहीं गेंदबाजों ने भी अफ्रीकी बल्लेबाजी की कमर तोड़कर रख दी है। तीसरे मैच में भी भारत का पलड़ा ही भारी रहने की संभावना है। रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, कप्तान विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा सभी जबर्दस्त फॉर्म में हैं। ये सभी बल्लेबाज लगातार बड़ी पारियां खेल रहे हैं। रोहित, मयंक, विराट तीनों पहले 2 टेस्ट मैचों में शतक जमा चुके हैं। रोहित ने पहले टेस्ट की दोनों पारियों में शतक लगाए। वहीं मयंक ने पहले टेस्ट में दोहरा शतक लगाया। दूसरे टेस्ट में कप्तान विराट ने 254 रन की रिकॉर्ड पारी खेली। पुजारा भी सीरीज में दो अर्द्धशतक लगा चुके हैं। गेंदबाजी में भी मोहम्मद शमी, आर अश्विन, रवींद्र जडेजा और उमेश यादव ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को चैन नहीं लेने दिया।

वहीं दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज लगातार संघर्ष करते ही नजर आए हैं। एडन मार्करैम चोटिल होकर स्वदेश लौट गए हैं, ऐसे में अफ्रीकी बल्लेबाजी कमजोर हुई है। कप्तान फाफ डुप्लेसिस, डीन एल्गर, तेंबा बावुमा और क्विंटन डी कॉक पर बल्लेबाजी का दारोमदार है, लेकिन ये नाकाम रहे हैं। भारत के लिए उसके स्पिनर कमाल कर रहे हैं। अश्विन और जडेजा की फिरकी का सामना ये प्रोटीज बल्लेबाज नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में अंतिम टेस्ट में इन्हें पूरा जोर लगाना होगा। वहीं गेंदबाजी में एक बार फिर कमान कगिसो रबाडा के हाथों में होगी। वर्नोन फिलैंडर और एनरिच नॉर्टजे अभी तक कोई खास प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं।

गौरतलब है कि भारत ने विशाखापट्टनम टेस्ट 203 रनों और पुणे टेस्ट को पारी व 137 रनों से जीता और सीरीज में 2-0 की बढ़त ली। भारतीय टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में शीर्ष पर है। ऐसे में वो अपनी स्थिति और मजबूत करना चाहेगी। वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत के 4 मैचों में 200 अंक हैं और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यदि अंतिम टेस्ट में वो जीतता है तो उसे 40 अंक और मिलेंगे।

संभावित टीमें : भारत- मयंक अग्रवाल, रोहित शर्मा, विराट कोहली (कप्तान), चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), हनुमा विहारी, रिद्धिमान साहा, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, शाहबाज नदीम, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, ईशांत शर्मा, रिषभ पंत और शुभमन गिल।

दक्षिण अफ्रीका- फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), तेंबा बावुमा (उपकप्तान), थ्यूनिस डी ब्रुइन, क्विंटन डी कॉक, डीन एल्गर, जुबैर हमजा, जॉर्ज लिंडे, सेनुरन मुथुसामी, लुंगी नगिडी, एरिक नॉर्टजे, वर्नोन फिलैंडर, डेन पीट, कगिसो रबाडा, रूडी सेकंड।

Posted By: Rahul Vavikar