एंटिगुआ। महान कैरेबियाई क्रिकेटर सर विवियन रिचर्ड्स ने भारतीय कप्तान विराट कोहली के साथ हुई बातचीत में खुलासा किया कि वे क्रिकेट खेलते वक्त हेलमेट क्यों नहीं पहनते थे।

विराट कोहली ने bcci.tv के लिए सर रिचर्ड्स का इंटरव्यू लिया। बीसीसीआई ने अपने आधिकारिक वेबसाइट पर इस इंटरव्यू को पोस्ट किया है। टेस्ट क्रिकेट में तेज गेंदबाजों द्वारा बल्लेबाजों के खिलाफ की जाने वाली बाउंसर और जोफ्रा आर्चर की बाउंसर पर स्टीव स्मिथ के चोटिल होने के संबंध में भी इनके बीच बातचीच हुई।

विराट ने कहा, 'मेरा मानना है कि आपको पारी की शुरुआत में ही गेंद लग जाना अच्छा रहता है क्योंकि यदि ऐसा नहीं होता है तो आप पूरे समय यह सोचते रहते हैं कि आपको चोट लग जाएगी। मैं तो पारी की शुरुआत में ही गेंद लगना पसंद करता हूं क्योंकि इसस मुझे बेहतर प्रदर्शन करने की प्रेरणा मिलती है। मैं इस दर्द को महसूस करता हूं और अपने आप से कहता हूं कि अब ऐसा नहीं होने दूंगा। वैसे चोट तो खेल का हिस्सा है, महत्वपूर्ण यह है कि आप इसके बाद कैसे वापसी करते हो।'

कोहली ने सर विवियन रिचर्ड्स का परिचय उन्हें बल्लेबाजों के लिए महानतम प्रेरणा बताते हुए किया। रिचर्ड्स बल्लेबाजी में अपनी आक्रामक शैली के लिए पहचाने जाते थे। उन्होंने कहा, मैं खुद को अच्छी तरह सबके सामने पेश करना चाहता था। मैं खुद में और विराट में यह समानता पाता हूं।

यह पूछे जाने पर कि उन्होंने हेलमेट क्यों नहीं पहना, रिचर्ड्स ने कहा- मैंने जो हेलमेट आजमाया उसमें मैं खुद को असहज महसूस कर रहा था। इसके चलते मैंने हमेशा मरून रंग की टोपी पहनी, इसे पहनने पर मुझे गर्व महसूस होता था। मेरा माइंडसेट ऐसा था कि मैं वहां खेलने के लिए समर्थ हूं, यदि मुझे चोट भी लगेगी तो यह भगवान की इच्छा होगी। मैं इससे बच जाऊंगा।

Posted By: Kiran Waikar

fantasy cricket
fantasy cricket