पोर्ट ऑफ स्पेन। भारत ने रविवार को बारिश से बाधित दूसरे एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में वेस्टइंडीज को डकवर्थ-लुईस पद्धति से 59 रनों से हराया। भारत ने विराट कोहली के 42वें वनडे शतक (120) की मदद से 7 विकेट पर 297 रन बनाए। श्रेयस अय्यर ने 71 रनों का योगदान दिया। इसके जवाब में वेस्टइंडीज की पारी 46 ओवरों में 270 रनों के संशोधित लक्ष्य का पीछा करते हुए 210 रनों पर सिमट गई। भुवनेश्वर कुमार ने 4 विकेट लिए। इसी के साथ भारत ने 3 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। तीसरा और अंतिम मैच इसी मैदान पर 14 अगस्त को खेला जाएगा।

बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज को ठोस शुरुआत चाहिए थी लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। क्रिस गेल 11 रन बनाकर भुवनेश्वर कुमार के शिकार बने, लेकिन उन्होंने इस दौरान ब्रायन लारा का वनडे में वेस्टइंडीज की तरफ से सबसे ज्यादा रनों का रिकॉर्ड तोड़ा। शाई होप 5 रन बना पाए।

विंडीज ने जब 12.5 ओवरों में 2 विकेट पर 55 रन बनाए थे तभी बारिश शुरू हो गई। इसके बाद इविन लुईस (65) और निकोलस पूरन (42) को छोड़ कोई बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों का प्रतिकार नहीं कर पाया। भुवी सबसे सफल गेंदबाज रहे, उन्होंने 31 रन देकर 4 विकेट लिए। मोहम्मद शमी और कुलदीप यादव ने 2-2 विकेट लिए।

इससे पहले कप्तान विराट कोहली के शानदार शतक और श्रेयस अय्यर के बेहतरीन अर्द्धशतक की मदद से भारत ने 50 ओवरों में 7 विकेट पर 279 रनों का मजबूत स्कोर बनाया। विराट ने 120 और श्रेयस ने 71 रनों की पारी खेली। वेस्टइंडीज की ओर से कार्लोस ब्रेथवेट ने 3 विकेट लिए। ये विराट का रिकॉर्ड 42वां शतक रहा। उन्होंने 125 गेंदों में 14 चौकों और 1 छक्के की मदद से 120 रन बनाए।

King Kohli 💪💪#TeamIndia pic.twitter.com/BiiNzL4GCS

— BCCI (@BCCI) August 11, 2019

क्वींस पार्क ओवल मैदान में खेले जा रहे इस मुकाबले में शिखर धवन और रोहित शर्मा ने भारतीय पारी की शुरुआत की। शेल्डन कॉटरेल ने पिच कंडीशन का पूरा फायदा उठाते हुए अपने ओवर की तीसरी ही गेंद पर धवन को एलबीडब्ल्यू कर दिया। धवन ने केवल 2 रन बनाए।

इसके बाद रोहित और विराट ने अच्छी बल्लेबाजी की। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 74 रनों की साझेदारी की। इनमें ज्यादा योगदान कप्तान विराट का रहा है। इसी दौरान विराट ने अपना अर्द्धशतक भी पूरा किया। लेकिन 16वें ओवर में रोस्टन चेस ने रोहित को आउट कर अपनी टीम को दूसरी सफलता दिलाई। चेस ने रोहित को पूरन के हाथों कैच कराया। रोहित ने 34 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 18 रन बनाए।

इसके बाद विराट ने रिषभ पंत के साथ पारी को आगे बढ़ाया। रिषभ से काफी उम्मीदें हैं लेकिन उनका फ्लॉप प्रदर्शन जारी है। तेज रन बनाने की कोशिश में रिषभ को कार्लोस ब्रेथवेट ने बोल्ड कर दिया। रिषभ ने शुरुआत तो अच्छी की थी, लेकिन 35 गेंदों में 20 रन (2 चौके) बनाकर आउट हो गए।

यहां से विराट ने श्रेयस अय्यर को साथ लेकर भारतीय पारी को मजबूत करना जारी रखा। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 125 रनों की पार्टनरशिप की। रिकॉर्ड 42वां शतक पूरा करने के बाद विराट ने तेज बल्लेबाजी जारी रखी। ब्रेथवेट की गेंद पर मारने की कोशिश में गेंद ने उनके बल्ले का टॉप एज लिया और रोच ने उनका कैच लपक लिया। विराट 120 रन बनाकर पैवेलियन लौटे।

विराट के आउट होने के बाद भारत ने लगातार विकेट खोए। विराट के साथ शानदार पार्टनरशिप करने वाले श्रेयस 71 रन (68 गेंद, 5 चौके, 1 छक्का) बनाकर होल्डर की गेंद पर बोल्ड हुए। इसके बाद केदार जाधव 16, भुवनेश्वर कुमार 1 रन बनाकर आउट हुए।

इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। इस मैदान पर पिछले 13 सालों से भारत का रिकॉर्ड शानदार रहा है और वह मेजबान विंडीज से कोई मैच हारा नहीं है। इस सीरीज का पहला मैच बारिश की भेंट चढ़ा था।

पिच कंडीशन देखते हुए ही भारत ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। कप्तान विराट कोहली के मुताबिक यहां बाद में विकेट धीमा हो जाएगा, जिससे बल्लेबाजी करना मुश्किल होगा। भारतीय टीम वही है जो पहले वनडे में खेली थी। उधर वेस्टइंडीज ने पहले मैच में उतारी टीम में एक परिवर्तन किया है। फेबियन एलेन अनफिट होने से टीम से बाहर हैं। उनके स्थान पर ओशाने थॉमस को प्लेइंग इलेवन में लिया गया है।

भारत ने टी20 सीरीज में वेस्टइंडीज का सफाया किया था। इसके बाद 3 मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच बारिश के कारण रद्द करना पड़ा।

टीमें : भारत - रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, केदार जाधव, रिषभ पंत, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, खलील अहमद, कुलदीप यादव।

वेस्टइंडीज - क्रिस गेल, इविन लुईस, शाई होप, निकोलस पूरन, शिमरोन हेटमायर, रोस्टन चेस, जेसन होल्डर (कप्तान), कार्लोस ब्रेथवेट, केमार रोच, शेल्डन कॉटरैल, ओशाने थॉमस।