नई दिल्ली। वेस्टइंडीज के कप्तान किरोन पोलार्ड ने अपनी टीम को 'अंडरडॉग' माना लेकिन कहा कि उनकी टीम शुक्रवार से भारत के खिलाफ शुरू हो रही सीरीज में बेसिक्स पर ध्यान देकर अच्छे परिणाम हासिल करना चाहेगी। भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन टी20 मैचों की सीरीज होने के बाद 15 दिसंबर से तीन वनडे मैचों की सीरीज होगी।

पोलार्ड ने कहा, हमारा मुकाबला मजबूत टीम से है और हम अंडरडॉग्स रहेंगे लेकिन यदि आप अपनी प्रतिभा पर विश्वास कर रणनीति को क्रियान्वित करते हैं तो कुछ भी संभव है। हमें खेल के कुछ क्षेत्रों में सुधार करना है और यदि आप ऐसा कर लेते हैं तो आप सही परिणाम हासिल करने में सफल होते हैं।

टी20 वर्ल्ड चैंपियन वेस्टइंडीज ने हाल ही में अफगानिस्तान को वनडे सीरीज में हराया है और पोलार्ड का मानना है कि टीम को प्रदर्शन में निरंतरता बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। अफगानिस्तान के खिलाफ सीरीज के लिए खिलाड़ियों ने कम समय में अच्छा प्रदर्शन किया। यह अच्छा प्रदर्शन रहा और इससे भविष्य में टीम को मदद मिलेगी। सफलता बोरिंग हो जीता है क्योंकि आपको समान चीज लगातार करनी होती है। हमारे खिलाड़ी ऐसा करने को तैयार हैं।

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड (WICB) के साथ विवाद के चलते पोलार्ड कुछ समय के लिए टीम से बाहर थे। उन्होंने कहा, मैं लंबे समय से इंटरनेशनल क्रिकेट खेल रहा था लेकिन बोर्ड से विवाद के चलते 3-4 साल नहीं खेल पाया। वेस्टइंडीज के लिए खेलना मेरा सपना था लेकिन मैंने टीम की कप्तानी के बारे में सोचा भी नहीं था। कप्तानी मिलना चुनौतीपूर्ण है और मुझे चुनौतियां स्वीकारना पसंद है।

पोलार्ड ने कहा, मैं ड्रेसिंग रूम में युवा खिलाड़ियों के साथ अपने अनुभव साझा करूंगा और उन्हें गाइड करूंगा। यह मेरा काम है। मैं उन्हें बेहतर प्रदर्शन के लिए प्रेरित भी करूंगा।

Posted By: Kiran Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस