नई दिल्ली। शनिवार को विराट कोहली की आरसीबी राजस्थान रॉयल्स से हारकर आईपीएल 2018 से बाहर हो गई। इस मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बल्लेबाजों ने लचर प्रदर्शन किया।

खुद कप्तान विराट कोहली ने भी अहम मैच में मिडिल ऑर्डर के बिखरने पर नाराजगी जताई। प्लेऑफ की उम्मीदों को मजबूत बनाए रखने के लिए इस मैच में RCB को जीत के लिए 165 रन बनाने थे। मगर पूरी टीम 134 रन पर ही ढेर हो गई और आईपीएल 2018 से बाहर हो गई। इस सीजन में आरसीबी ने खेले 14 मैचों में से 6 में ही जीत दर्ज की, बाकी आठ मुकाबलों में उसे हार का सामना करना पड़ा।

'मिडिल ऑर्डर बल्लेबाजों ने किया मायूस'

मैच के बाद कोहली ने कहा कि, "बल्लेबाजी में एबी डीविलियर्स पर ही सबसे ज्यादा दबाव था, एक वक्त हम अच्छी स्थिति में थे। एक विकेट पर टीम का स्कोर 75 रन था, मगर उसके बाद जिस तरह से हम आउट हुए, वो अच्छी बात नहीं है। जब एबी डीविलियर्स एक छोर से चौके और छक्के मार रहे थे, ऐसे में दूसरे छोर पर बल्लेबाजों को थोड़ा धैर्य दिखाना चाहिए था। ऐसे में ये बात मायूस करती है। एक, दो बल्लेबाजों ने अगर गलती की होती तो समझ आता, मैच में सभी बल्लेबाजों ने धैर्य नहीं दिखाया, जिसका नतीजा सबके सामने है"।

165 रन के टारगेट का पीछा कर रही आरसीबी एक वक्त काफी मजबूत दिख रही थी। पारी के नौवें ओवर में टीम का स्कोर एक विकेट के नुकसान पर 75 रन था। एबी डीविलियर्स एक छोर से शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे। मगर मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज लेग स्पिनर श्रेयस गोपाल को लंबे शॉट्स मारने के चक्कर में आउट होते चले गए।

डीविलियर्स से हर बार नहीं की जा सकती उम्मीद

पिछले कई सालों से आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की बल्लेबाजी की रीढ़ टॉप तीन बल्लेबाज ही रहे हैं। इस सीजन में गेल की गैरमौजूदगी में विराट कोहली और एबी डीविलियर्स ने ये जिम्मेदारी निभाई। कोहली ने जहां 530 रन बनाए तो वहीं एबी के बल्ले से 480 रन निकले। इसके बाद रन बनाने वाले बल्लेबाजों में मंदीप सिंह का नाम है। उन्होंने इस सीजन में 252 रन बनाए। वहीं ऑलराउंडर की भूमिका निभा रहे सरफराज खान के बल्ले से 6 पारियों में केवल 51 रन निकले।

कोहली ने कहा कि, "इस सीजन में हम अपना मिडिल ऑर्डर मजबूत करना चाहते थे, जो हमारी ताकत नहीं थी। ऐसे में अगले सीजन के लिए हमें इस पर बहुत ध्यान देना होगा। टीम संयोजन किस तरह का हो, इसे लकेर और ज्यादा समझदार बनना होगा। हर बार मिडिल ऑर्डर में एबी डीविलियर्स से रन बनाने की उम्मीद नहीं की जा सकती है। बाकी खिलाड़ियों को भी अहम मौकों पर अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी। इस मैच में केवल एबी ने ही अपनी जिम्मेदारी निभाई, बाकी बल्लेबाजों ने परिस्थिति के हिसाब से संयम नहीं दिखाया"।

हार के बाद भी कप्तान विराट कोहली और आरसीबी के लिए इस आईपीएल में कुछ गेंदबाजों का प्रदर्शन शानदार रहा। उमेश यादव ने बीस विकेट झटके।

खुद कप्तान कोहली ने भी उमेश यादव की तारीफ की। उन्होंने कहा कि, "इस सीजन में कई खिलाड़ियों का प्रदर्शन शानदार रहा। खासतौर पर उमेश यादव और युजवेंद्र चहल ने अच्छी गेंदबाजी की। सिराज और मोइन अली ने भी मिले मौके को भुनाया। ऐसे में इन अच्छे पहलूओं को लेकर हम अगले सीजन में जाएंगे"।

Posted By: