IPL Auction 2019: आईपीएल फ्रेंचाइजी (IPL franchises) के लिए ट्रेडिंग विंडो 14 नवंबर को बंद हो गई। अब सभी की नजर 19 दिसंबर को होने वाली खिलाड़ियों की नीलामी (player auctions) पर है। यहां टीमें 2020 में होने वाले आईपीएल के 13वें सीजन के लिए खिलाड़ियों का चयन करेंगी। अब उन खिलाड़ियों की छंटनी हो रही है, जिन पर फ्रेंचाइजी खुलकर पैसा लगाएंगी। कई खिलाड़ी ऐसे हैं, जिन्हें उनकी टीमों से मुक्त कर दिया गया है। इनमें कई तो ऐसे हैं जो कभी अपनी टीम की जान थे। अब दूसरी फ्रेंचाइजी उन पर बोली लगाने को उत्सुक होंगी। एक नजर कुछ ऐसे खिलाड़ियों पर नजर पर -

क्रिस मॉरिस (Chris Morris): मॉरिस की सबसे बड़ी खूबी यह है कि वे पारी के गेंद और बल्ला, दोनों से कमाल दिखा सकते हैं। पारी के आखिरी में उनकी यॉर्कर गेंदों को झेलना बहुत मुश्किल होता है, वहीं विपक्षी गेंदबाज उनके साफ-सुथरे छक्कों से बचाने की कोशिश करते हैं। हर फ्रेंचाइजी की नजर इस खिलाड़ी पर होगी। उन्होंने 7.98 की इकॉनोमी के साथ 61 मैचों में 69 विकेट लिए हैं। वहीं IPL में 37 चौकों और 27 छक्कों के साथ कुल 517 रन बनाए हैं। मॉरिस निचले क्रम के बल्लेबाज हैं, जिन्हें हर टीम 6 या 7 नंबर पर रखना चाहेगी।

मार्कस स्टोइनिस (Marcus Stoinis): ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर स्टोइनिस ने बल्ले और गेंद, दोनों से योगदान दिया है। बीच-बीच में उनकी हिटिंग विरोधियो को बहुत भारी पड़ती है। पारी के बीच में कप्तान उनसे कुछ ओवर भी करवा सकता है। उनकी क्लीन हिटिंग की क्षमता किसी भी टीम के लिए प्लस हो सकती है। उनका बल्लेबाजी स्ट्राइक 130 है। KXIP से उन्हें रिलीज कर दिया है। स्टोइनिस पर उन फ्रैंचाइजी की नजर होगी, जो किसी विदेशी ऑलराउंडर की तलाश में है।

शाकिब अल हसन (Shakib al Hasan): शाकिब की गिनती आधुनिक क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में होती है। शाकिब पिछले 8 सीजन से आईपीएल में योगदान दे रहे हैं। उन्होंने 7.5 से कम की इकनॉमी के साथ 59 विकेट लिए हैं और 126.65 के स्ट्राइक रेट से 746 रन बनाए हैं। शाकिब ऐसे खिलाडी हैं, जो बल्लेबाज और गेंदबाज के रूप में किसी भी टीम में स्थिरता लाते हैं। शाकिब निश्चित रूप से अधिकांश फ्रेंचाइजियों की सूची में होंगे।

डेविड मिलर (David Miller): सूची में एक और दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी जो ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है। डेविड मिलर ऐसे खिलाड़ी हैं जो अपने दम पर मैच का रुख बदल सकते हैं। उन्होंने 79 मैचों में 101 रन (नाबाद) के उच्चतम स्कोर के साथ 1850 रन बनाए हैं। 87 छक्के और 126 चौके लगा चुके मिलर से हर विरोधी खौफ खाता है। KXIP ने उन्हें रिलीज कर दिया है और वे नीलामी के लिए उपलब्ध होंगे।

क्रिस लिन (Chris Lynn): लिन केकेआर की बल्लेबाजी की रीढ़ रहे हैं। एक सलामी बल्लेबाज के रूप में उनकी क्षमता को इसी बात से समझा जा सकता है कि वह अपने साथी सुनील नारायण के साथ टीम को कई बार अच्छी शुरुआत दी है। 140 के आईपीएल स्ट्राइक रेट के साथ लिन किसी भी टीम में सलामी बल्लेबाज के रूप में फिट हो सकते हैं। हालांकि, लगातार अच्छा प्रदर्शन करने की कीमत उन्हें केकेआर में जगह खोकर चुकाना पड़ी है।

इन खिलाड़ियों पर भी नजर: इनके अलावा और भी खिलाड़ी हैं जिनके लिए हर फ्रेंचाइजी बोली लगाना चाहेगी। जैसे- हेटमीर, मुनरो, इनग्राम, क्लासेन, गप्टिल, एविन लुईस, उथप्पा, हनुमा विहारी आदि बल्लेबाजों पर बोली देखने लायक होगी, जबकि नाथन कल्टर नाइल, मोहित शर्मा, कार्लोस ब्रैथवेट, पीयूष चावला, बरिंदर सरां, अल्जार जोसफ जैसे गेंदबाज, जयदेव उनादकट, डेल स्टेन, टिम साउदी गेंदबाजों की सूची में होंगे। ऑलराउंडर जैसे कॉलिन डी ग्रैंडहोमे, यूसुफ पठान, मोइसेस हेनरिक्स, बेन कटिंग, एंड्रयू टाय पर भी पैसा लगाया जा सकता है।

Posted By: Arvind Dubey