IPL 2020 के शुरू होने का इंतजार किया जा रहा है। इस बीच, पूर्व क्रिकेटर एस. श्रीसंत के फैन्स के लिए अच्छी खबर है। S Sreesanth पर लगा आईपीएस स्पॉट फिक्सिंग का बैन खत्म हो गया है। अब उन्होंने किसी भी टीम के लिए 5-7 साल आईपीएल खेलने की इच्छा जाहिर की है। उन्हें सात साल की सजा मिली थी, जिसकी अवधि रविवार को खत्म हो गई। S Sreesanth पहले ही कह चुके हैं कि सजा पूरी करने के बाद से घरेलू क्रिकेट से शुरुआत करना चाहते हैं। वे अपने गृह राज्य केरल से खेलना चाहते हैं। केरल क्रिकेट बोर्ड ने भी कहा है कि यदि S Sreesanth अपनी फिटनेस साबित करते हैं तो वह उन्हें टीम में शामिल करने पर जरूर विचार करेगा।

S Sreesanth का कहना है कि अब मैं किसी भी टीम के लिए खेलने के लिए फ्री हूंं। मुझे खेल से सबसे ज्यादा प्यार है। 37 साल के हो चुके S Sreesanth ने अपने ट्वीट में लिखा है कि वे प्रैक्टिस में जुट गए हैं और हर गेंद पर कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

घरेलू क्रिकेट में S Sreesanth की वापसी पर कोरोना ग्रहण लगाता दिख रहा है। कोरोना महामारी के कारण बीसीसीआई ने सभी तरह के घरेलू पर रोक लगा दी है। हालांकि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली कह चुके हैं कि बोर्ड घरेलू क्रिकेट बहाल करने की पूरी कोशिश कर रहा है।

इंडियन प्रीमियर लीग के 2013 संस्करण में स्पॉट फिक्सिंग के लिए श्रीसंथ के जीवन प्रतिबंध को बीसीसीआई के लोकपाल डीके जैन ने पिछले साल घटाकर सात साल कर दिया था। बीसीसीआई ने श्रीसंथ पर अगस्त 2013 में अपने राजस्थान रॉयल्स टीम के साथी खिलाड़ी अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण के साथ प्रतिबंध लगा दिया था।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020