पूर्व भारतीय ऑलराउंडर खिलाड़ी Irfan Pathan हमेशा से ही भारतीय कप्तान विराट कोहली के पक्ष में रहे हैं। इंग्लैंड साउथेम्प्टन में हुए भारत और न्यूजीलैंड विश्व टेस्ट चैंपियनशिप मैच में भारत को हार का सामना करना पड़ा था। न्यूजीलैंड से भारत की हार के लिए इरफान पठान ने अभ्यास मैच की कमी को जिम्मेदार ठहराया है। भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए मैंच में भारत की शिकस्त को लेकर इरफान पठान ने कहा कि ‘‘जब भारतीय टीम दूसरे सत्र में फील्डिंग करने आई तो हमारे गेंदबाज पहले से ही थक गए थे। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि भारत ने ज्यादा मैच अभ्यास नहीं किया था। जब टीम ज्यादा मैच अभ्यास नहीं करती है, तो वह मैच के लिए जरूरी फिटनेस नहीं रख पाती है।’’ भारत की हार को लेकर पठान का मानना है कि भारत की पहली पारी ठीक थी लेकिन दूसरी पारी देखकर निराशा हुई। अगर हम क्रिकेट के प्वाइंट पर बात करें तो भारत से क्या गलती हुई।

पठान ने कहा कि भारतीय बल्लेबाजों को जिम्मेदारी से बल्लेबाजी करनी चाहिए थी। भारत को कुछ और बल्लेबाजों के साथ खेलना चाहिए था। जैसा कि मैंने फाइनल से पहले भी कहा था कि टीम में एक और बल्लेबाज की जरूरत थी। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में अधिकतर लोगो का मानना है कि इस मैच में भारत की हार का कारण ठीक तरह से कप्तानी थी। क्रिकेट प्रेमी ने विराट की कप्तानी को लेकर मैच के हारने का कारण बताया है।

इरफान पठान को बताया कोहली का चमचा

इंग्लैंड में हुए भारत और न्यूजीलैंड के मैच में भारत की हार से तमाम क्रिकेट प्रेमी निराश हुए हैं। लोग इस हार का कारण विराट की कप्तानी को बता रहे हैं। वहीं दूसरी ओर जब लोग विराट की कप्तानी को कारण बता रहे थे तब इरफान विराट की तारीफों के पुल बांध रहे थे। उस समय ट्विटर पर एक फैंन ने इरफान पठान को विराट कोहली का चमचा बताया है। इस दौरान फैन ने कहा कि क्या पठान को विराट कोहली की तारीफ करने के लिए पैसे मिल रहे हैं।

इरफान पठान ने दिया जवाब

जब फैन द्वारा इरफान को विराट का चमचा बताए जाने एवं पैसे लेकर विराट की तारीफ करने की बात कही गई तो इस पर इरफान पठान ने अपना एक नया ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘‘ तो क्या आप मुझे दुनिया के बेस्ट खिलाड़ी की तारीफ करते देखना नहीं चाहते।’’ इस पर फैन ने जवाब देते हुए कहा कि ‘‘जितनी तारीफ करनी है करो, लेकिन ऐसे मत करो कि आप एक फैन बन गए हो। यहां तक कि सबसे शानदार खिलाड़ियों में भी कुछ कमी जरूर होती है, उन बातों को भी उजागर करें।

Posted By: Arvind Dubey