इंदौर। झारखंड ने सैयद मुश्ताक अली टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के सुपर लीग चरण के पहले ही मुकाबले में गुजरात के खिलाफ अंतिम गेंद पर एक रन से रोमांचक जीत दर्ज कर टूर्नामेंट का धमाकेदार आगाज किया। इस जीत के साथ ही झारखंड को 4 अंक मिले।

एमरल्ड हाइट्स मैदान की पिच के आस-पास ज्यादा नमी के होने के कारण मैच को घटाकर 18-18 ओवरों का कर दिया गया था। गुजरात ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का निर्णय लिया। झारखंड ने मध्यक्रम की लड़खड़ाहट के बीच 7 विकेट पर 148 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। जवाब में गुजरात की टीम 8 विकेट पर 147 रन ही बना सकी। अंतिम ओवर में गुजरात को जीत के लिए 16 रनों की जरूरत थी जबकि अंतिम दो गेंदों पर 6 रनों की जरूरत थी। विकास सिंह की गेंद पर चिराग गांधी पांचवीं गेंद पर कोई रन नहीं बना सके।

अंतिम गेंद पर चिराग चौका ही जड़ सके। हालांकि लक्ष्य का पीछा करते हुए गुजरात की शुरुआत खराब रही और उसने दूसरे ओवर में ही 9 के स्कोर पर दो विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद करण पटेल (35), अक्षर पटेल (28) व पीयूष चावला (20) ने टीम को लक्ष्य की दौड़ में बनाए रखा। उत्कर्ष सिंह, विकास सिंह, ए. रॉय व आनंद सिंह ने 2-2 विकेट लिए। इससे पहले कप्तान ईशान किशन (39) और आनंद सिंह (45) ने पहले विकेट के लिए 7.2 ओवरों में 82 रन जोड़कर टीम को मजबूत शुरुआत दी। लेकिन इस साझेदारी के टूटने के बाद अगली 41 गेंदों में टीम ने 37 रनों के अंतराल में 5 विकेट गंवा दिए। अंत में कुमार देवब्रत ने 20 गेंदों पर नाबाद 22 रनों की पारी खेली।

श्रीवत्स के अर्द्धशतक से बंगाल जीता

एमरल्ड हाइट्स मैदान पर खेले गए दूसरे मैच में श्रीवत्स गोस्वामी (80) के अर्द्धशतक की बदौलत बंगाल ने सुपर लीग के मैच में रेलवे को 11 गेंदें शेष रहते 6 विकेट हरा दिया। रेलवे ने 6 विकेट पर 142 रन बनाए। जवाब में बंगाल ने यह लक्ष्य 18.1 ओवरों में 143 रन बनाकर हासिल कर लिया। लक्ष्य का पीछा करते हुए रिद्धिमान साहा (0) का विकेट पहले ही ओवर में गंवाने के बाद गोस्वामी ने अभिमन्यु ईश्वरन (46) के साथ टीम को 100 के पार पहुंचाया। अभिमन्यु के बाद कप्तान मनोज तिवारी (4) जल्दी चलते बनें। गोस्वामी टीम को जीत के करीब पहुंचाकर पैवेलियन लौटे। औपचारिकता आर रॉय चौधरी और विवेक सिंह ने पूरी की। आशीष यादव ने 2 विकेट लिए। इससे पहले आशीष ने 44 गेंदों पर 51 रनों की पारी खेलते हुए रेलवे को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया उनके अलावा प्रथम सिंह ने 22 और प्रशांत गुप्ता ने 39 रनों का योगदान दिया।

विदर्भ ने दिल्ली को 9 विकेट से रौंदा

गेंदबाजों के जबर्दस्त प्रदर्शन की बदौलत विदर्भ ने सुपर लीग के मैच में दिल्ली को 9 विकेट से करारी शिकस्त दी। होलकर स्टेडियम में दिल्ली को 16.2 ओवरों में मात्र 83 रनों पर समेटने के बाद विदर्भ ने 8.3 ओवरों में एक विकेट गंवाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। लक्ष्य का पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाज जितेश शर्मा ने 24 गेंदों पर 41 रनों की पारी खेली। अथर्व तायडे ने नाबाद 32 रनों की पारी खेली। इससे

पहले टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय विदर्भ का सही रहा और उसने लगातार अंतराल में विकेट हासिल किए। हितेन दलाल ने 34 गेंदों पर 42 रनों की पारी खेली लेकिन दूसरे छोर पर विकेट गिरते चले गए। दिल्ली के बल्लेबाज उमेश यादव, यश ठाकुर व श्रीकांत वाघ की तेज गेंदबाजों की तिकड़ी का सामना नहीं कर सके। दिल्ली के केवल दो बल्लेबाज ही दहाई का आंकड़ा पार कर सके, जिनमें से उन्मुक्त चंद व हिम्मत सिंह खाता भी नहीं खोल सके। पवन नेगी ने 18 रन बनाए। उमेश, यश, श्रीकांत व अक्षय कर्णेवार ने दो-दो विकेट लिए।