नई दिल्ली। महान श्रीलंकाई विकेटकीपर कुमार संगकारा ने आलोचना झेल रहे रिषभ पंत से कहा कि उन्हें आत्मविश्वास हासिल करने के लिए अतिरिक्त जोखिम नहीं उठाना चाहिए और बातों को सिंपल रखना चाहिए।

पंत ने टेस्ट करियर की शुरुआत में शानदार प्रदर्शन कर इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में शतक लगाए थे। इसके बाद बल्लेबाजी और विकेटकीपिंग में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा और टीम में उनकी जगह को खतरा पैदा हो गया है। 42 वर्षीय संगकारा ने कहा, 'पंत को ऐसे में अपनी कमजोरियों को समझकर उन कमियों को दूर करने पर काम करना होगा। उन्हें अतिरिक्त जोखिम और प्रयोगों से बचने के साथ ही दबाव को हावी नहीं होने देना होगा और बातों को सिंपल रखना होगा। किसी सीनियर को उनसे बैटिंग के बारे में बात कर खुलकर खेलने देना होगा। पंत को विकेटकीपिंग के दौरान चुस्त रहना होगा।'

22 वर्षीय पंत की बांग्लादेश के खिलाफ पहले टी20 मैच में DRS के खराब फैसले की वजह से आलोचना हुई थी। उन्होंने राजकोट में गुरुवार को दूसरे टी20 मैच में बचकानी गलती की जब चहल की गेंद को स्टंप्स के सामने कलेक्ट कर लिटन दास को स्टंप किया था। चूंकि उन्होंने गेंद को स्टंप्स के आगे पकड़ा था इसके चलते गेंद को नोबॉल देकर बांग्लादेश को फ्रीहिट दी गई थी।

संगकारा ने स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत में कहा, विकेटकीपर होने के नाते उन्हें स्टंप्स के पीछे चुस्ती-फुर्ती के साथ रहना चाहिए जिससे उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा और वे रिव्यू के मामले में कप्तान की मदद कर पाएंगे। पंत को वर्ल्ड कप के मद्देनजर अपनी भूमिका समझनी होगी और कप्तान को सही सूचना देनी होगी।

संगकारा की राय से पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण भी सहमत नजर आए लेकिन उन्होंने पंत की बल्लेबाजी पर चिंता जताई। उन्होंने कहा, आईपीएल तक सिलेक्टर्स गेंदबाजी विभाग में प्रयोग कर सकती हैं। बल्लेबाजी में रिषभ पर सभी की निगाहें रहेंगी। क्रिकेटर को ऐसे नाजुक दौर में टीम प्रबंधन और सिलेक्टर्स का सपोर्ट जरूरी होता है।

Posted By: Kiran Waikar