Mahendra Singh Dhoni। भारतीय क्रिकेट टीम के सफलतम कप्तानों में से एक महेंद्र सिंह धोनी की सफलता की कहानी अब स्कूल सिलेबस में भी पढ़ाई जाएगी। MS Dhoni ने साल 2007 में टी-20 विश्व कप, 2011 में 50 ओवर विश्व कप और 2013 में अपने नेतृत्व में चैंपियंस ट्रॉफी में अपनी कप्तानी में जीत दिलाई थी। साथ ही टेस्ट टीम को भी दुनिया में नंबर एक की रैंकिंग तक पहुंचाया था। झारखंड की राजधानी रांची के रहने वाले लड़के महेंद्र सिंह धोनी ने न सिर्फ बड़े सपने देखे, बल्कि उन सपनों को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत भी की थी। सिर्फ क्रिकेट प्रेमियों के लिए ही नहीं, बल्कि अन्य लोगों के लिए भी MS Dhoni आदर्श भी हैं। यही कारण है कि धोनी की की सफलता की कहानी को अब स्कूली पाठ्यक्रम में भी एक चैप्टर में पढ़ाया जा रहा है।

इंटरनेट पर वायरल हुए किताब के पन्ने

महेंद्र सिंह धोनी के जिस चैप्टर को स्कूली सिलेबस में शामिल किया गया है, उसी चैप्टर के पन्ने अब इंटरनेट पर काफी वायरल हो रहे हैं। वायरल हो रहे किताब में पन्नों में देखा जा सकता है कि उसमें MS Dhoni का जीवन परिचय बच्चों को पढ़ाया जा रहा है। पाठ्यपुस्तक के अध्याय-7 में माही की जीवनी बताई गई है, जिसमें बताया गया है कि कैसे एक छोटे शहर से रांची के लड़का भारतीय क्रिकेट का चमकता सितारा बना। चैप्टर में यह भी बताया गया है कि टीम इंडिया की कप्तानी करते हुए धोनी ने कई शानदार फैसले लेकर हारे हुए मैच भी जिता दिए। इसके अलावा धोनी ने कई नए खिलाड़ियों को भी तराशने का काम किया और उनको एक मैच विनर खिलाड़ी बनाया। विराट कोहली, केएल राहुल, रोहित शर्मा, रवींद्र जडेजा सब धोनी की ही देन हैं।

MS Dhoni की जीवन पर पहले ही बन चुकी है फिल्म

इससे पहले क्रिकेटर MS Dhoni के जीवन पर साल 2016 में पहले ही फिल्म बन चुकी है। साल 2016 में निर्देशक नीरज पांडे ने ‘MS Dhoni: अनटोल्ड स्टोरी’ फिल्म बनाई थी, जिसमें धोनी के बचपन से लेकर 2011 क्रिकेट विश्व कप तक की यात्रा को दिखाया गया था। फिल्म में MS Dhoni की भूमिका दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने निभाई थी। फिल्म में धोनी की पत्नी साक्षी की भूमिका में कियारा आडवाणी थी, जबकि प्रेमिका की भूमिका दिशा पाटनी ने निभाई थी।

Posted By: Sandeep Chourey