नई दिल्ली। वेस्टइंडीज दौरे के लिए चयनित भारतीय टीम केवल इसी दौरे को ध्यान में रखकर नहीं चुनी गई। चयन समिति ने खिलाड़ियों को चुनते समय आगामी बड़े टूर्नामेंट को भी ध्यान में रखा है। खासतौर से अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप को भी चयन समिति ने ध्यान में रखा है। बोर्ड को खिलाड़ियों और बेंच स्ट्रेंथ को लेकर जो रिपोर्ट मिली है, वो चौंकाने वाली है। खासतौर से सीमित ओवर क्रिकेट के लिए बोर्ड के पास ज्यादा विकल्प नहीं हैं। रिपोर्ट में सबसे बड़ी बात महेंद्र सिंह धोनी को लेकर सामने आई है। इसके बाद ये कयास लग रहे हैं कि धोनी अगले साल होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप तक खेल सकते हैं।

बता दें कि वेस्टइंडीज दौरे के लिए विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को टी-20, वनडे और टेस्ट यानि तीनों फॉर्मेट के लिए टीम में चुना गया। पंत के चयन का रास्ता इसलिए बिल्कुल साफ हो गया क्योंकि धोनी ने अगले दो महीने क्रिकेट से ब्रेक लेने का फैसला किया और बोर्ड को इस बारे में सूचित किया। धोनी के विश्राम लेने के बाद एक बार फिर उनके संन्यास की खबरें सामने आईं, लेकिन बोर्ड को खिलाड़ियों, टीम और बेंच स्ट्रेंथ को लेकर जो रिपोर्ट मिली, उसमें धोनी को टीम के लिए अभी भी महत्वपूर्ण खिलाड़ी माना गया। खासतौर से साल 2020 में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप में धोनी को मेंटर की भूमिका में माना गया।

महेला जयवर्धने ने जताई भारतीय टीम के कोच बनने की इच्छा, ये पूर्व खिलाड़ी भी दौड़ में

ये युवा विकेटकीपर बल्लेबाज भी टेस्ट टीम का बड़ा दावेदार, जल्द ही दिखाई देगा टीम में

विश्‍व कप में रिषभ और मयंक को भेजने पर हुआ था विवाद, अब स्थिति हुई साफ

अगले विश्व कप से पहले पाकिस्तान की टीम सुधार दूंगा - इमरान

धोनी की टीम में उपयोगिता

टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर बोर्ड अभी से तैयारी में लग गया है और टीम प्रबंधन भी नहीं चाहता कि धोनी इस दौरान संन्यास लें। टीम प्रबंधन का मानना है कि धोनी अगर संन्यास ले लेते हैं और पंत चोटिल हो जाते हैं तो फिर वर्ल्ड कप के लिए टीम में महत्वपूर्ण जगह खाली रह जाएगी। इन दोनों की गैरमौजूदगी में टीम के पास कोई बेहतर विकल्प नहीं है। ऐसे में धोनी टीम के साथ बने रहे।

बोर्ड से जुड़े अधिकारी कह चुके हैं कि धोनी अपनी भूमिका जानते हैं और संन्यास का फैसला भी वे खुद ही करेंगे। जहां तक टी-20 विश्व कप का सवाल है तो पंत के अलावा धोनी ही सबसे बेहतर हैं। धोनी की मौजूदगी में ही पंत निखर रहे हैं। धोनी केवल पंत ही नहीं बल्कि एक मेंटर के रूप में अपनी भूमिका निभा रहें हैं। इंग्लैंड में हुए विश्व कप में भी इसकी झलक दिखाई दी।

बता दें कि मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद कह चुके हैं कि बेशक पंत आने वाले कुछ समय टीम के साथ सभी प्रारूपों में फिट बैठते दिख रहे हों लेकिन अभी भी धोनी की भूमिका बनी हुई है। संन्यास का फैसला पूरी तरह से धोनी का व्यक्तिगत फैसला होगा। हमने वर्ल्ड कप तक एक रोडमैप तैयार किया था और हमारी आगे की योजनाएं भी तैयार है। पंत बेहद प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं लेकिन जरुरत अभी उनके कौशल को और निखारने की है, जो धोनी के मार्गदर्शन में हो रहा है।

जाहिर है इससे संकेत मिलते हैं कि धोनी संन्यास का फैसला अभी टाल सकते हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि धोनी साल 2020 में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप तक खेलेंगे और फिलहाल संन्यास नहीं लेंगे।

Posted By: Rahul Vavikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Independence Day
Independence Day