मल्टीमीडिया डेस्क। भारत की मिताली राज ने बुधवार को वड़ोदरा में दक्षिण अफ्रीकी महिला टीम के खिलाफ पहले इंटरनेशनल वनडे के लिए मैदान में उतरने के साथ ही इतिहास रच दिया। मिताली इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में 20 साल तक खेलने वाली दुनिया की पहली महिला क्रिकेटर बन गई।

पुरुषों के इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में सचिन तेंडुलकर, सनत जयसूर्या और जावेद मियांदाद 2 दशकों से ज्यादा समय तक क्रिकेट खेल चुके हैं। इस तरह मिताली यह मुकाम हासिल करने वाली पहली महिला और दुनिया की कुल चौथी क्रिकेटर बनी। मिताली ने इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में डेब्यू 26 जून 1999 को मिल्टन कीन्स में आयरलैंड के खिलाफ किया था। वड़ोदरा के रिलायंस मैदान जब मिताली उतरी तो वास्तव में उन्हें इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में 20 साल 105 दिन पूरे हो चुके थे। उन्होंने अपना पिछला इंटरनेशनल वनडे मैच 28 फरवरी 2019 को मुंबई में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था।

इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में सबसे लंबे समय तक देश का प्रतिनिधित्व

22 साल 91 दिन सचिन तेंडुलकर (भारत)

21 साल 184 दिन सनत जयसूर्या (श्रीलंका)

20 साल 272 दिन जावेद मियांदाद (पाकिस्तान)

20 साल 105 दिन मिताली राज (भारत)

मिताली इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट मैच खेलने के मामले में भी महिलाओं में पहले क्रम पर हैं। वे 204 मैचों में 51.38 की औसत से 6731 रन बना चुकी हैं। इंग्लैंड की चार्लोट एडवर्ड्स (191), भारत की झूलन गोस्वामी (177), ऑस्ट्रेलिया की एलेक्स ब्लेकवैल (144) और इंग्लैंड की जैनी गन (144) इस मामले में उनके बाद क्रमश: दूसरे, तीसरे और चौथे क्रम पर है। मिताली ने 10 टेस्ट मैचों में 51 की औसत से 663 रन बनाए है। वे 89 इंटरनेशनल टी20 मैचों में 37.52 की औसत से 2364 रन बना चुकी है।

भारत ने यह मुकाबला 8 विकेट से जीता

भारत ने वड़ोदरा में पहले इंटरनेशनल वनडे में दक्षिण अफ्रीका को 8 विकेट से हराया। द. अफ्रीका की पारी 45.1 ओवरों में 164 रनों पर सिमटी। इसके जवाब में भारत ने 41.4 ओवरों में 2 विकेट खोकर टारगेट हासिल किया। डेब्यू मैच खेल रही प्रिया पूनिया ने 75 रनों की नाबाद पारी खेली। उन्होंने 8 चौके लगाए। जेमिमा रॉड्रिगेज ने 55 रन बनाए। मिताली 11 रन बनाकर नाबाद रहीं।