जोहान्सबर्ग। Mzansi Super League: दक्षिण अफ्रीका की मजांसी सुपर लीग में पर्ल रॉक्स और नेल्सन मंडेला बे जायंट्स के बीच खेले गए मैच में श्रीलंकाई तेज गेंदबाज इसुरु उदाना ने खेल भावना का परिचय दिया। उन्होंने ऐसा काम किया जिसकी दुनियाभर में तारीफ हो रही हैं। उन्होंने नॉन स्ट्राइकर छोर पर चोटिल बल्लेबाज को रन आउट करने का मौका छोड़ा। कड़ी प्रतिस्पर्धा के इस दौर में भी क्रिकेट में खेल भावना के ऐसे क्षण आते हैं जिन्हें वर्षों तक याद किया जाता हैं।

जायंट्स को जीत के लिए 8 गेंदों में 24 रन चाहिए थे और उदाना पारी का 19वां ओवर डाल रहे थे। उनके ओवर की पांचवीं गेंद पर हिनो कुन ने शॉट लगाया जो सीधे नॉन स्ट्राइकर छोर के बल्लेबाज मार्को मरायस को लगा और वे गिर पड़े। उनसे टकराकर आती गेंद को उदाना ने पकड़ लिया, उनके पास मरायस को रन आउट करने का मौका था लेकिन उन्होंने खेल भावना दिखाते हुए ऐसा नहीं किया और उन्हें उठकर क्रीज में लौटने दिया। मरायस को इतना दर्द हो रहा था कि वे क्रीज में लौटने के बाद मैदान पर गिर पड़े।

मैच की स्थिति को देखते हुए उदाना यदि मरायस को रन आउट करते तो भी उन्हें गलत नहीं समझा जाता लेकिन उन्होंने खेल भावना को महत्व दिया। मरायस ने इसके बाद एक छक्का लगाया लेकिन उनकी टीम 12 रनों से यह मैच हार गई। अंक तालिका में टॉप पर चर रहे पर्ल रॉक्स ने इस जीत के साथ ही फाइनल में प्रवेश कर लिया। फाइनल 16 दिसंबर को खेला जाएगा।

उदाना ने श्रीलंका की तरफ से 2009 में इंटरनेशनल डेब्यू किया था। वे इसके बाद से अब तक 15 इंटरनेशनल वनडे और 27 इंटरनेशनल टी20 मैच खेल चुके हैं। उन्होंने इस दौरान कुल 35 इंटरनेशनल विकेट हासिल किए हैं।

Posted By: Kiran Waikar

fantasy cricket
fantasy cricket