हैमिल्टन। New Zealand vs England: न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन और रॉल टेलर ने मंगलवार को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के अंतिम दिन शतक जड़े। बारिश की वजह से अंतिम दिन का खेल प्रभावित हुआ और यह टेस्ट ड्रॉ रहा। पहली पारी में 101 रनों से पिछड़ने के बाद न्यूजीलैंड ने अंतिम दिन जब दूसरी पारी में 2 विकेट पर 241 रन बनाए थे तब बारिश शुरू हो गई और फिर खेल शुरू नहीं हो पाया। न्यूजीलैंड ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज पर 1-0 से कब्जा जमाया। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट को मैन ऑफ द मैच और न्यूजीलैंड के नील वेगनर को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया।

न्यूजीलैंड ने अंतिम दिन 96/2 से आगे खेलना शुरू किया। इंग्लैंड की खराब फील्डिंग और कैच छोड़ने का न्यूजीलैंड को लाभ मिला। विलियम्सन को दिनभर के खेल में कुल मिलाकर तीन जीवनदान मिले।

विलियम्सन को मिले तीन जीवनदान :

विलियम्सन जब 39 रनों पर थे तब बेन स्टोक्स की गेंद पर विकेटकीपर ओली पोप ने उनका आसान कैच छोड़ा। इसके बाज जब कीवी कप्तान 62 रनों पर थे तब जोफ्रा आर्चर की गेंद पर शॉर्ट मिडविकेट पर जो डेनली ने उनका आसान कैच टपकाया। विलियम्सन शतक से वंचित हो सकते थे लेकिन जब वे 97 रनों पर थे तब सैम करैन ने उन्हें रन आउट करने का मौका गंवाया।

विलियम्सन ने रूट की गेंद पर चौका लगाकर शतक पूरा किया। वे 231 गेंदों में 11 चौकों की मदद से शतक तक पहुंचे। यह टेस्ट क्रिकेट में उनका 21वां शतक है।

टेलर के 7000 टेस्ट रन पूरे :

टेलर जैसे ही पारी में 83 रनों तक पहुंचे, उनके टेस्ट क्रिकेट में 7000 रन पूरे हो गए। वे यह उपलब्धि हासिल करने वाले स्टीफन फ्लेमिंग के बाद दूसरे कीवी बल्लेबाज बने। टेलर ने रूट की गेंद पर छक्का लगाकर शतक पूरा किया। यह उनका 19वां टेस्ट शतक है। वे 184 गेंदों में 11 चौकों और 2 छक्कों की मदद से शतक तक पहुंचे।

Posted By: Kiran Waikar