PAK Biryani bill: न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने पिछले शुक्रवार को सुरक्षा कारणों के चलते अपना पाकिस्तान दौरा रद्द कर दिया था, जिसके बाद इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने अक्टूबर में होने वाला दौरा भी रद्द कर दिया। अक्टूबर में निर्धारित दौरे में इंग्लैंड की पुरुष और महिला दोनों टीम पाकिस्तान की धरती पर मैच खेलने वाली थीं। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, दोनों टीमों के हटने से पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को भारी वित्तीय नुकसान होने की संभावना है। ताजा जानकारी के अनुसार कीवी के लिए तैनात सुरक्षा एजेंसियों को पीसीबी ने भारी कीमत चुकाई है। इसके साथ ही कीवी खिलाड़ियों की सुरक्षा में तैनात जवानों को जो बिरयानी खिलाई गई थी। उसका बिल लगभग 27 लाख रुपये आया है। अब पीसीबी को इस बिल का भुगतान भी करना है।

18 सालों बाद पाकिस्तान पहुंची थी न्यूजीलैंड टीम

लगभग 18 वर्षों के बाद, न्यूजीलैंड 11 सितंबर को सफेद गेंद की श्रृंखला के लिए पाकिस्तान पहुंचा था और उसे तीन एकदिवसीय और पांच टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने थे। न्यूजीलैंड की टीम आठ दिनों तक पाकिस्तान में रही। इसके बाद सुरक्षा कारणों से यह दौरा रद्द कर दिया गया और कीवी टीम बिना कोई मैच खेले वहां से चली गई। इस टीम में कुल 33 सदस्यीय शामिल थे जो शनिवार शाम इस्लामाबाद से एक चार्टर्ड उड़ान से दुबई के लिए रवाना हुए।

500 सुरक्षाकर्मी खा गए 27 लाख की बिरयानी

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, इस्लामाबाद और रावलपिंडी में पाकिस्तान सेना के साथ कीवी टीम की सुरक्षा के लिए पांच एसपी और 500 से अधिक एसएसपी तैनात थे। उनमें से प्रत्येक सुरक्षाकर्मी को दिन में दो बार बिरयानी परोसी गई, जिसकी लागत लगभग ₹27 लाख आई।

क्या बोली न्यूजीलैंड की टीम

न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान का दौरा बिना कोई मैच खेले ही रद्द कर दिया। इस बारे में न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड की तरफ से कहा गया “पांच मैचों की टी 20 श्रृंखला के लिए लाहौर जाने से पहले, टीम को रावलपिंडी में तीन एकदिवसीय मैचों में से पहला मैच आज शाम पाकिस्तान से खेलना था। हालांकि, न्यूजीलैंड सरकार ने पाकिस्तान में खतरा बढ़ने की जानकारी दी है और यहां पर NZC सुरक्षा सलाहकारों की सलाह के बाद, यह निर्णय लिया गया है कि BLACKCAPS दौरे के साथ जारी नहीं रहेगा।"

Posted By: Arvind Dubey