कराची। श्रीलंका के खिलाफ होने वाली वनडे और टी20 सीरीज के लिए सरफराज अहमद पाकिस्तान टीम के कप्तान बने रहेंगे। चीफ कोच और सिलेक्शन कमेटी चेयरमैन मिस्बाह उल हक की अनुशंसा पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने यह फैसला लिया। बाबर आजम टीम के उपकप्तान होंगे।

पीसीबी चेयरमैन एहसान मनी ने शुक्रवार को सरफराज की नियुक्ति की पुष्टि की। पाकिस्तान द्वारा इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल की पात्रता हासिल नहीं कर पाने के बाद से ही सरफराज की कप्तानी पर सवाल उठाए जा रहे थे। सरफराज अप्रैल 2016 से पाकिस्तान टी20 टीम की और 2017 की शुरुआत से वनडे टीम की कमान संभाले हुए है। उनके नेतृत्व में ही टीम ने 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी खिताब हासिल किया था। वे 13 टेस्ट, 48 वनडे और 34 टी20 मैचों में पाकिस्तान का नेतृत्व संभाल चुके हैं और उनके नेतृत्व में ही टीम आईसीसी टी20 रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंची थी।

अपनी नियुक्ति पर सरफराज ने कहा, मैं अपने कप्तानी कार्यकाल में इजाफा किए जाने पर गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। मैंने पाकिस्तान टीम की कप्तानी को पूरा एन्जॉय किया हौ और मिस्बाह उल हक के नए सैट अप में अपनी नेतृत्व क्षमता को सुधारने पर और काम करूंगा। मैंने अपना अधिकांश क्रिकेट मिस्बाह के नेतृत्व में खेला है और हम एक-दूसरे को अच्छी तरह जानते हैं। मेरा मानना है कि हमारा कॉम्बिनेशन अच्छा चलेगा और हम सभी फॉर्मेट में टीम के प्रदर्शन को सुधारेंगे।

सिलेक्शन कमेटी 16 सितंबर को श्रीलंका के खिलाफ टी20 और वनडे सीरीज के लिए 19 संभावितों के नाम घोषित करेगी। इसके बाद बुधवार से कराची में टीम का कैंप लगेगा। इन दोनों सीरीज के लिए टीमों की घोषणा 23 सितंबर को की जाएगी। पाकिस्तान के पास इन दोनों सीरीज में जीत का आसान मौका रहेगा क्योंकि श्रीलंका के 10 प्रमुख खिलाड़ियों ने इस दौरे के लिए पाकिस्तान जाने से इंकार कर दिया है जबकि उनका एक खिलाड़ी चोटिल है।