नागपुर। Rohit Sharma backs Rishabh Pant: भारत और बांग्लादेश के बीच के सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबला 10 नवंबर रविवार को यहां खेला जाएगा। सीरीज के पहले दो मुकाबलों में गंभीर गलतियां करने वाले रिषभ पंत की भले ही सब जगह आलोचना हो रही है, लेकिन रिषभ को भारतीय क्रिकेट के दो मौजूदा दिग्गजों का साथ मिला है। रिषभ को टीम के कप्तान रोहित शर्मा और बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली का सपोर्ट मिला है।

रिषभ की गलतियों के कारण टीम को काफी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा था। लेकिन कप्तान रोहित ने रिषभ पंत का समर्थन किया है। रोहित ने आलोचकों से कहा कि रिषभ को अकेला छोड़ दें। वे जैसा कर रहे हैं, वैसा करने दें क्योंकि वे टीम प्रबधंन की रणनीति पर अमल करने कोशिश कर रहे हैं।

रोहित ने कहा कि रिषभ को थोड़ा समय दिया जाए। उनके प्रदर्शन को इतना बारीकी से देखने को जरुरत नहीं है क्योंकि वे टीम की रणनीति के तहत ही ये कोशिश कर रहे हैं। अब इसमें उनसे थोड़ी गलती हो रही है तो उसे नजरअंदाज किया जाना चाहिए। टीम जानती है कि वे क्या कर रहे हैं।

कप्तान रोहित ने बांग्लादेश के खिलाफ यहां टी20 श्रृंखला के निर्णायक मैच से पूर्व कहाए ष्ष्हर दिनए हर मिनट ऋषभ पंत के बारे में काफी चर्चायें चल रही हैंण् मुझे यही लगता है कि उसे वही करने देना चाहिए जो वह मैदान पर करना चाहता हैण् मैं हर किसी से अनुरोध करूंगा कि कुछ समय के लिये ऋषभ पंत से निगाहें हटा लीजियेण्ष्ष्

बता दें कि रिषभ को लगातार आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। आईपीएल 2019 में तो उन्होंने धमाकेदार प्रदर्शन किया किया था, लेकिन वर्ल्ड कप 2019, वेस्टइंडीज दौरे और दक्षिण अफ्रीका में वे लगातार गलतियां करते रहे। इतना ही नहीं बांग्लादेश के चल रही टी20 सीरीज के पहले 2 मैचों में भी रिषभ से कई गंभीर गलतियां हुईं।

नागपुर टी20 मैच से पहले रिषभ के बारे में पूछे जाने पर रोहित ने कहा- वे निडर क्रिकेटर है और टीम प्रबंधन उन्हें आजादी देना चाहती हैं। अगर आप कुछ समय के लिए उनपर से निगाहें हटा लेंगे तो वे बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगे। उनकी इस तरह से लगातार आलोचना ठीक नहीं है। वे 22 साल के युवा है और फिलहाल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नए हैं। वे खुद भी अपनी गलतियों पर काम कर रहे हैं और हम जानते हैं कि वे कितनी मेहनत कर रहे हैं। वे मैदान में कुछ भी करते हैं तो उनकी आलोचना शुरू हो जाती है। ये ठीक नहीं है। वास्तव में उन्हें थोड़ा अकेला छोड़ दिया जाना चाहिए ताकि वे बिना दबाव के खेलें।

गांगुली ने रिषभ को लेकर दिया ये बयान

उधर बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली ने भी रिषभ का समर्थन किया है। उन्होंने कहा- रिषभ शानदार विकेटकीपर बल्लेबाज है। उन्हें थोड़ा समय देने की जरुरत है। समय के साथ उनके खेल में निखार आएगा। वे धीरे-धीरे परिपक्व होंगे। उनपर दबाव नहीं बनाया जाना चाहिए।

बता दें कि रिषभ ने नई दिल्ली में हुए पहले टी20 में 26 गेंद में 27 रन बनाए थे। लेकिन खराब विकेटकीपिंग और गलत डीआरएस के फैसलों के कारण फिर आलोचकों के निशाने पर आए थे। इसके चलते टीम को हार का सामना करना पड़ा। दूसरे टी20 में भी उन्होंने कीपिंग के दौरान विकेट के आगे आकर गेंद पकड़ी और स्टम्पिंग की, जिसके चलते अंपायर ने नो बॉल दी और यहां भी टीम को शर्मिंदा होना पड़ा।

Posted By: Rahul Vavikar