मल्टीमीडिया डेस्क। Sarah Unique Achievement: इंग्लैंड की सारा टेलर दो दिन पहले इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायर हो गई। 30 साल की सारा की गिनती महिला क्रिकेट की महान विकेटकीपर के रूप में की जाती रहेगी। उनकी फुर्ती देखते ही बनती थी। उन्होंने बल्लेबाजी में भी कमाल दिखाया और उनके नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में 6000 से ज्यादा रन दर्ज है। सारा की प्रमुख उपलब्धि महेंद्रसिंह धोनी और कुमार संगकारा जैसे दुनिया के दिग्गज विकेटकीपर्स के ग्रुप में शामिल होने वाली एकमात्र महिला विकेटकीपर के रूप में हैं।

सारा इंटरनेशनल क्रिकेट में 104 स्टम्पिंग करने वाली महिला विकेटकीपर के रूप में रिटायर हुई। इंटरनेशनल क्रिकेट के सभी फॉर्मेट में 100 से ज्यादा स्टम्पिंग करने वाली वे दुनिया की एकमात्र महिला विकेटकीपर हैं। इस मामले में यदि पुरुष तथा महिला विकेटकीपर्स की मिलाकर बात की जाए तो सारा तीसरे क्रम पर आती है। इंटरनेशनल क्रिकेट में 100 से ज्यादा स्टम्पिंग सिर्फ 4 विकेटकीपर ने की है। महेंद्रसिंह धोनी (195) पहले और संगकारा (139) दूसरे क्रम पर है। इसके बाद सारा (104) और फिर रोमेश कालूवितर्ना (101) का नंबर आता है।

सारा ने 2006 में इंटरनेशनल करियर शुरू किया था। उन्होंने 13 साल के करियर में 10 टेस्ट मैचों में 18 कैच लिए और 2 स्टम्पिंग की। उन्होंने 126 इंटरनेशनल वनडे में 87 कैच लपके और 51 स्टम्पिंग की। सारा ने 90 टी20 मैचों में 23 कैच लपके और 51 स्टम्पिंग की। इस तरह उन्होंने करियर में कुल 226 इंटरनेशनल मैचों में 104 स्टम्पिंग की।

सारा की खास उपलब्धियां

- सारा ने इंटरनेशनल क्रिकेट में 6533 रन बनाए। वे इंग्लैंड की तरफ से दूसरी सबसे ज्यादा रन बनाने वाली बल्लेबाज थी।

- विकेटकीपर सारा ने इंटरनेशनल क्रिकेट में कैच और स्टम्पिंग के रूप में कुल 232 शिकार किए।

- उन्होंने तीन बार वर्ल्ड खिताब हासिल किए।

- वे 3 बार आईसीसी की साल की सर्वश्रेष्ठ टी20 महिला क्रिकेटर चुनी गई।

- वे 1 बार आईसीसी की साल की सर्वश्रेष्ठ वनडे महिला क्रिकेटर चुनी गई।

इंटरनेशनल क्रिकेट में 100 से ज्यादा स्टम्पिंग

195 महेंद्रसिंह धोनी (भारत - 538 मैच)

139 कुमार संगकारा (श्रीलंका - 594 मैच)

104 सारा टेलर (इंग्लैंड - 226 मैच)

101 रोमेश कालुवितर्ना (श्रीलंका - 238 मैच)

Posted By: Kiran Waikar