ढाका (एजेंसियां)। भारत दौरे के पहले बांग्लादेश की टीम को तगड़ा झटका लगा है। उसके कप्तान और टीम के स्टार ऑल राउंडर शाकिब अल हसन को 2 साल के लिए निलंबित कर दिया गया है। एक सट्टेबाज ने उन्हें 3 बार संपर्क किया था, लेकिन शाकिब ने इसकी जानकारी आईसीसी को नहीं दी। इसे प्रोटोकॉल का उल्लंघन माना गया और उन्हें निलंबित कर दिया गया है।

बता दें कि शाकिब से करीब 2 साल पहले एक संदिग्ध भारतीय सटोरिए ने मैच फिक्सिंग के लिए संपर्क किया था। इसके अलावा उनसे आईपीएल में भी इस सट्टेबाज ने संपर्क किया था। इस तरह कुल तीन बार शाकिब को पेशकश की गई थी। लेकिन शाकिब ने एक बार भी इसकी जानकारी आईसीसी को नहीं दी। आईसीसी के मुताबिक शाकिब पर एक साल का पूर्ण प्रतिबंध और 12 महीने की अवधि का निलंबित प्रतिबंध लगाया गया है । निलंबित निलंबन तब लागू होगा जब शाकिब आईसीसी की एंटी करप्शन कोड ऑफ कंडक्ट का पालन नहीं करेंगे।

शाकिब के लिए ये बहुत बड़ा झटका है क्योंकि इस निलंबन के चलते वे आईपीएल के अलावा ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप में भी नहीं खेल पाएंगे। वर्ल्ड कप अगले साल 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक खेला जाएगा।

बता दें कि आईसीसी ने इसे लेकर पहले ही बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड को संकेत दे दिए थे। आईसीसी के निर्देश पर शाकिब को पहले ही भारत के दौरे के मद्देनजर हुए प्रैक्टिस शिविर से बाहर रखा गया था। इसके अलावा वे बोर्ड की बैठक में भी शामिल नहीं हुए। अब आईसीसी ने उन्हें 2 साल के लिए निलंबित किए जाने की अधिकृत घोषणा की।

BREAKING: Bangladesh captain and world No.1 ODI all-rounder Shakib Al Hasan has been banned for two years (one of those suspended), for failing to report corrupt approaches on numerous occasions.https://t.co/depJ2VHSne

— ICC (@ICC) October 29, 2019

बता दें कि करीब 2 साल पहले सट्टेबाजों ने मैच फिक्सिंग के लिए शाकिब से संपर्क किया था। लेकिन उन्होंने इसकी जानकारी उन्होंने आईसीसी को नहीं दी। जब मामले की जानकारी आईसीसी तक पहुंची तो उसकी एंटी करप्शन व सिक्युरिटी यूनिट ने मामले की जांच शुरू की। शाकिब ने जांच अधिकारियों के सामने स्वीकार किया था कि सट्टेबाज ने उनसे संपर्क किया था। जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने इसकी जानकारी आईसीसी को क्यों नहीं दी, तो शाकिब कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए। आईसीसी प्रोटोकॉल के तहत यदि किसी खिलाड़ी को इस तरह का कोई ऑफर मिलता है तो उसे आईसीसी को इसकी जानकारी देना अनिवार्य होता है लेकिन शाकिब ने ऐसा नहीं किया।

उधर निलंबित किए जाने पर शाकिब ने काफी दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा- मैं निलंबित किए जाने के फैसले से बहुत दुखी हूं। मैं इस खेल से बहुत प्यार करता हूं। लेकिन मैं स्वीकार करता हूं कि जब मुझसे संपर्क किया गया था, उसकी जानकारी मैंने नहीं दी। मैंने सटोरिए की पेशकश की जानकारी नहीं देकर अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाई।

शाकिब को निलंबित किए जाने के बाद अब बांग्लादेश के लिए ये काफी मुश्किल स्थिति हो गई है क्योंकि शाकिब टेस्ट और टी20 दोनों टीमों के कप्तान थे। शाकिब की जगह बांग्लादेशी बोर्ड ने भारत दौरे के लिए टी20 टीम की कमान महमुदुल्लाह को जबकि टेस्ट टीम की कमान मोमिनुल हक को सौंपी है।

गौरतलब है कि बांग्लादेश टीम को भारत दौरे पर 3 मैचों की टी20 सीरीज और 2 मैचोंं की टेस्ट सीरीज खेलना है। इनमें ये टेस्ट सीरीज आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा है। दौरे की 3 नवंबर को पहले टी20 मैच से होगी। इसके बाद 14 से 18 नवंबर तक इंदौर में पहला टेस्ट और फिर 22 से 26 नवंबर तक कोलकाता में दूसरा टेस्ट खेला जाएगा।

Posted By: Rahul Vavikar