जोहानसबर्ग (एजेंसियां)। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी गुलाम बोदी को स्पॉट फिक्सिंग मामले में 5 साल जेल की सजा सुनाई गई है। प्रीटोरिया कमर्शियल क्राइम कोर्ट ने शुक्रवार को बोदी को ये सजा सुनाई। बोदी आईपीएल में भी खेल चुके हैं।

बता दें कि बोदी को 2015 में घरेलू क्रिकेट के दौरान स्पॉट फिक्सिंग मामले का दोषी पाया गया था। इसके बाद के सालों में हुई जांच के दौरान उन्हें दोषी पाया गया और अब उन्हें सजा सुनाई गई। वे दक्षिण अफ्रीका पहले खिलाड़ी हैं जिन पर 2004 के भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा चला और फिर सजा हुई। गौरतलब है कि पूर्व कप्तान हांसी क्रोन्य के मैच फिक्सिंग प्रकरण के बाद ये अधिनियम लाया गया था।

बोदी ने इसके खिलाफ अपील भी दायर की। उन्हें पिछले साल नवंबर में आठ कोर्ट ने दोषी माना था। पूर्व में आशंका थी कि बोदी को 15 साल तक की सजा हो सकती है, लेकिन उनके द्वारा कोर्ट से दया करने की मांग करने पर बाद में उनकी सजा में कटौती कर दी गई। ॉ

गौरतलब है कि बोदी ने दक्षिण अफ्रीका के घरेलू टूर्नामेंट में स्पॉट फिक्सिंग की थी। बुकीज की मदद से उन्होंने टूर्नामेंट में खेल रहे कुछ खिलाड़ियों से फिक्सिंग कर उन्हें भी जाल में उलझाने की कोशिश की। वे स्टेडियम के बाहर के स्थान सार्वजनिक स्थानों पर सट्टेबाजों से मिलते थे और फिर मैचों के पहले खिलाड़ियों से संपर्क कर उन्हें स्पॉट फिक्सिंग का ऑफर देते थे। बताया जा रहा है कि साल 2014 में उन्होंने भारतीय सट्टेबाजों से भी संपर्क किया था। चूंकि ये पूर्व खिलाड़ी रहे हैं, ऐसे में उनपर कोई शक नहीं करता था। बाद में कुछ खिलाड़ियों ने गुप्त रुप से उनकी शिकायत की। जिसके बाद उन्हें ट्रैप किया गया। जांच में उनके खिलाफ दोष साबित हुआ। उनसे जब पूछा गया कि उन्होंंने ये सब क्यों किया तो उन्होंने स्वीकार किया था कि ये सब पैसों के लिए ही किया था।

40 बोदी ने 2007 में जिम्बाब्वे के खिलाफ अपना वनडे डेब्यू किया था। वे केवल 2 वनडे खेल पाए। जिम्बाब्वे के खिलाफ ही उन्होंने पहले मैच में अर्द्धशतक जमाया था, जबकि दूसरे मैच में उन्होंने 32 रन बनाए थे। इसके बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। उन्होंने एकमात्र टी20 मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला। जानकारी के मुताबिक बोदी का जन्म भारत में हुआ था लेकिन सालों पहले उनका परिवार दक्षिण अफ्रीका में बस गया। बोदी प्रोटीज टीम की ओर से अंडर 19 वर्ल्ड कप में भी खेल चुेक हैं। बोदी चैंपियंस लीग में लायंस टीम से खेल चुके हैं, जिसे उन्होंने फाइनल तक पहुंचाया था। चैंपियंस लीग में बोदी ने 6 मैचों में 3 अर्द्धशतक सहित 208 रन बनाए थे। इसके बाद आईपीएल में भी खेले। उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीदा लेकिन उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला।

Posted By: Rahul Vavikar