ढाका। Spot Fixing in BPL: बांग्लादेश प्रीमियर लीग (BPL) अपने पहले ही मुकाबले से सवालों के घेरे में आ गया है। पहले मुकाबले में कुछ ऐसे घटनाक्रम हुए जिससे लीग में स्पॉट फिक्सिंग और मैच फिक्सिंग का शक गहरा गया है। इस मैच में गेंदबाजों ने ऐसी नो बॉल और वाइड गेंदें फेंकी जिससे हर कोई हैरान रह गया।

बता दें कि ढाका के शेरे बांग्ला क्रिकेट स्टेडियम में BPL का पहला मैच खेला गया। चटोग्राम चैलेंजर्स और सिलहट थंडर के बीच हुआ ये पहला मैच ही सवालों के घेरे में आ गया। दरअसल इस मैच में ऐसा कुछ हुआ जिससे मैच में स्पॉट फिक्सिंग का शक गहरा गया। सिलहट थंडर के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज क्रिशमार संटोकी ने मैच के दौरान इतनी बड़ी नो बॉल फेंकी जिसने सभी को फिक्सिंग का शक करने पर मजबूर कर दिया। इसमें संटोकी की पैर काफी ज्यादा बाहर निकला और माना जा रहा है कि गेंदबाज ने जानबुझकर ऐसी गेंद फेंकी।

संटोकी ने फेंकी जम्बो नो बॉल

बता दें कि सिलहट थंडर के लिए BPL में पहला मैच खेल रहे संटोकी ने अपने पहले ओवर की 5वीं गेंद ही जम्बो नो बॉल फेंकी। संटोकी की ये नो बॉल इतनी बड़ी थी कि सभी हैरान रह गए। सभी का मानना था कि पैर यदि इतना आगे जाता है तो गेंदबाज को अच्छी तरह पता होता है कि ये नो बॉल होगी। गौरतलब है कि ये नो बॉल ठीक उसी तरह की थी जैसे 2010 में मोहम्मद आमिर ने लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान फेंकी थी। इसके बाद आमिर पर स्पॉट फिक्सिंग का आरोप सही साबित हुआ था और उन्हें 5 साल का बैन झेलना पड़ा।

वाइड भी फेंकी

इतना ही नहीं इस नो बॉल के बाद संटोकी ने लेग स्टम्प के काफी बाहर एक वाइड गेंद भी फेंकी। यहां भी संटोकी की गेंदबाजी सवालों के घेरे में आ गए। ये गेंद इतनी ज्यादा बाहर थी विकेटकीपर को फूल स्ट्रेच होकर गेंद पकड़ने की कोशिश करना पड़ी। इन दोनों गेंदों के फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए। कई लोग इसके पीछे स्पॉट फिक्सिंग की आशंका जता रहे हैं।

क्रिशमार संटोकी के बारे में बता दें कि वे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं और वे टी20 लीग्स ही खेलते हैं। इसलिए उन्हें टी20 का स्पेशलिस्ट खिलाड़ी कहा जाता है। संटोकी ने वेस्टइंडीज के लिए 12 टी20 मैच खेलते हुए 18 विकेट ले चुके हैं। वे आईपीएल में भी खेल चुके हैं और मुंबई इंडियंस की ओर से 2 मैच खेले हैं। इन 2 मैचों में उन्होंने 3 विकेट लिए। हालांकि संटोकी ने पिछले 5 सालों से आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेला है।

Posted By: Rahul Vavikar

fantasy cricket
fantasy cricket