Last Match As Captain : आज के मैच के साथ ही भारत का टी20 विश्वकप 2021 का सफर खत्म हो जाएगा। नामीबिया के साथ भारत का मुकाबला महज औपचारिकता रह गया है, लेकिन कई मायनों में ये टीम इंडिया के लिए कुछ खास महत्व रखता है। आज के मैच में बतौर कप्तान, विराट कोहली का ये 50वां टी20 इंटरनेशनल मैच होगा। साथ ही टी20 फॉर्मेट में विराट कोहली (Virat Kohli) के कप्तानी करियर का अंत हो जाएगा। आज के मैच में सभी की निगाहें विराट कोहली पर होंगी, जो आख़िरी बार इस फ़ॉर्मेट में बतौर कप्तान मैदान पर उतरेंगे। इसके अलावा टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री के कार्यकाल का भी ये अंतिम मुक़ाबला रहेगा। ज़ाहिर है, कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) के लिए यह मैच एक यादगार लम्हा होगा, और टीम इंडिया के सदस्य इस मैच को इन दोनों दिग्गजों के लिए ख़ास बनाना चाहेंगे।

इस टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) की शुरुआत से पहले ही विराट ने यह ऐलान कर दिया था कि वह इस वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के बाद वह इस फॉर्मेट में टीम की कमान नहीं संभालेंगे। वैसे,शास्त्री-कोहली की जोड़ी को ये मलाल ज़रूर रहेगा कि भारत ने कोई बड़ा इवेंट अपने नाम नहीं किया। विराट कोहली को पूरी उम्मीद थी कि वह भारत को दूसरी बार टी20 चैंपियन बना सकेंगे। भारतीय टीम को इस टूर्नामेंट में खिताब का प्रबल दावेदार भी माना जा रहा था। लेकिन पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के हाथों हारकर टीम ने अपना बोरिया-बिस्तर बांधने की तैयारी कर ली। अब भारतीय टीम को नामीबिया के खिलाफ अपना आखिरी लीग मैच खेलना है, जो दोनों ही टीमों के लिए एक औपचारिकता भर है।

टी20 फॉर्मेट में अगर विराट कोहली के कप्तानी करियर की बात करें तो इस फॉर्मेट में वह एमएस धोनी (72 T20I मैच) के बाद टीम इंडिया की सबसे ज्यादा कप्तानी करने वाले दूसरे खिलाड़ी हैं। उन्होंने 2017 से 2021 तक टीम इंडिया की कमान संभाली। इस दौरान उनकी कप्तानी में भारत ने कुल 49 मैच खेले, जिनमें 29 में उसे जीत, जबकि 16 में हार मिली। इस दौरान 2 मैच टाई पर खत्म हुए और बाकी 2 मैच बेनतीजा समाप्त हुए।

Posted By: Shailendra Kumar