कराची। 10 साल बाद पाकिस्तान में टेस्ट क्रिकेट की वापसी होगी जब श्रीलंका दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए पाकिस्तान का दौरा करेगा। मार्च 2009 में लाहौर में श्रीलंका टीम की बस पर आतंकी हमले के बाद से पाकिस्तान में कोई टेस्ट मैच नहीं खेला गया है।

श्रीलंका क्रिकेट ने इस सीरीज के लिए अपनी रजामंदी प्रदान कर दी है। श्रीलंका के खिलाफ इस टेस्ट सीरीज के मुकाबले रावलपिंडी और कराची में होंगे। यह सीरीज आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा होगी।

कुछ समय पहले ही श्रीलंका टीम ने सीमित ओवरों की सीरीज के लिए पाकिस्तान का दौरा किया था। श्रीलंका ने तीन वनडे और तीन टी20 मैचों की सीरीज के लिए यह दौरा किया था।

रावलपिंडी और कराची में होंगे टेस्ट मैच :

इस टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट रावलपिंडी के पिंडी क्रिकेट स्टेडियम में 11 दिसंबर से खेला जाएगा। कराची के नेशनल स्टेडियम में 19 दिसंबर से दूसरा टेस्ट मैच खेला जाएगा। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के निदेशक जाकिर खान ने कहा, यह पाकिस्तान क्रिकेट के लिए शानदार खबर है कि पाकिस्तान भी दूसरे देशों की तरह सुरक्षित है। हम श्रीलंका क्रिकेट के आभारी है कि उन्होंने टेस्ट सीरीज के लिए अपनी टीम भेजने पर रजामंदी दे दी है। यह पाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट की बहाली की दिशा में बड़ा कदम साबित होगा। इससे युवा पीढ़ी भी इस खेल की तरफ आकर्षित होगी।

श्रीलंका को पहले के कार्यक्रम के अनुसार अक्टूबर में पाकिस्तान में टेस्ट सीरीज और दिसंबर में सीमित ओवरों की सीरीज खेलनी थी। क्रिकेट श्रीलंका ने सुरक्षा व्यवस्था का आकलन करने के लिए इस सीरीज के फॉर्मेट में अदला-बदली कर दी।

Posted By: Kiran Waikar