पर्थ (ऑस्ट्रेलिया)। क्रिकेट अनिश्चिताओं का खेल है और इसमें कुछ भी हो सकता है। ताजा मामला ऑस्ट्रेलिया की घरेलू क्रिकेट में देखने को मिला जब एक टीम 11 ओवरों में 5 रन भी नहीं बना पाई। सुनकर भले ही आप चौंक जाएं लेकिन ये सही है।

पर्थ में मार्श कप में विक्टोरिया और तस्मानिया के बीच मुकाबला खेला गया। मैच में तस्मानिया का पलड़ा भारी नजर आ रहा था और उसकी जीत तय मानी जा रही थी, लेकिन अंतिम समय में पासा ऐसा पलटा कि सभी हैरान रह गए। विक्टोरिया ने बेहद रोमांचक परिस्थितियों में 1 रन से जीत हासिल की।

विक्‍टोरिया ने पहले खेलते हुए 47.5 ओवर में 185 रन बनाए। उसके लिए विल सदरलैंड ने अपना पहला अर्द्धशतक बनाया, वहीं ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने 35 रन बनाए। 186 रनों का लक्ष्य तस्मानिया के लिए आसान माना जा रहा था। तस्मानिया भी आसानी से लक्ष्य की ओर बढ़ती दिखाई दे रही थी क्योंकि एक समय उसका स्कोर 4 विकेट पपर 172 रन था। वो जीत से महज 14 रन दूर थी और 12 ओवरों का खेल शेष था, जबकि तस्मानिया के 6 विकेट शेष थे। लेकिन इसी समय मैच में ऐसा रोमांचक मोड़ आया कि सारे क्रिकेट पंडित हैरान रह गए।

इसी दौरान जैक्सन कोलमैन गेंदबाजी के लिए आए। जैक्सन ने घातक गेंदबाजी करते हुए अपने ओवर में 3 विकेट झटक लिए। यहां से मैच रोमांचक स्थिति में पहुंच गया। तस्मानिया के बल्लेबाज जैक्सन के जाल में ऐसे उलझे कि एक के बाद एक आउट होते चले गए। जब जैक्सन ने इस ओवर का पहला विकेट लिया, तब तस्मानिया के 5 विकेट शेष थे और 11 ओवरों का खेल शेष था। इसके बाद क्रिस ट्रेमैन ने अगले ओवर में 2 विकेट झटककर विक्टोरिया को 1 रन से हैरतअंगेज जीत दिला दी। ट्रेमैन और कोलमैन ने 4-4 विकेट लिए। बेन मैक्‍डरमॉट के अलावा तस्‍मानिया का कोई बल्‍लेबाज 30 रन का आंकड़ा पार नहीं कर पाया। 6 बल्‍लेबाज तो दोहरी संख्‍या में रन बनाने में भी कामयाब नहीं हुए।

तस्‍मानिया की पारी के इस पतन का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। cricket.com.au ने अपने ऑफिशियर ट्विटर हैंडल पर इसका वीडियो शेयर किया। इसके साथ कैप्शन लिखा - तस्‍मानिया को 11 ओवर में 5 रनों की जरुरत थी। उसके 5 विकेट शेष थे। फिर विकेट विकेट, 1, 1, विकेट, विकेट 1 विकेट।

Posted By: Rahul Vavikar