लीवरपूल। भारतीय मुक्केबाज विजेंदर सिंह पेशेवर मुक्केबाजी में अपना चौथा मुकाबला लड़ने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। विजेंदर ने पिछले तीनों मुकाबले एकतरफा अंदाज में जीते हैं और अब वे जीत का चौका लगाने को बेताब हैं। यह मुकाबला लीवरपूल के इको एरिना में होगा। यह इंग्लिश रॉक बैंड बीटल्स का जन्मस्थान भी हैं और विजेंदर के अनुसार वे उनके संगीत के दीवाने हैं।

विजेंदर ने कहा- जब मैं पेशेवर मुक्केबाजी के लिए इंग्लैंड आया था तो मेरा सपना था कि मैं कभी लीवरपूल में लडूंगा और अपने आदर्श लोगों (जॉन, पॉल, रिंगो और जॉर्ज) के जन्मस्थान देखूंगा। मुझे बीटल्स का संगीत पसंद है और यह उनका जन्मस्थान भी है। अब मेरा यह सपना 13 फरवरी को पूरा होगा।

भारत में अपने बचपन के दौरान मैं बीटल्स का संगीत सुनता था। मेरे पिता और दादा को भी उनका संगीत बेहद पसंद है। 1960 में जब बीटल्स भारत आए थे तो मेरे दादा जरूर उन्हें सुनने गए होंगे। भारतीय मुक्केबाज ने कहा- मैं लीवरपूल में होने वाली लड़ाई का और इंतजार नहीं कर सकता। मैं इस शहर में कभी कोई मुकाबला नहीं लड़ा हूं।

Posted By: