गुयाना (एजेंसियां)। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के बल्ले से कई रिकॉर्ड निकले हैं। वनडे क्रिकेट में वे वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। अब गुरुवार से भारत और वेस्टइंडीज के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज शुरू हो रही है, ऐसे में विराट के निशाने पर दो बड़े रिकॉर्ड हैं जिन्हें वे तोड़ सकते हैं। विराट के पास इंडीज के महान बल्लेबाज डेसमंड हेंस और रामनरेश सरवन के रिकॉर्ड तोड़ने का मौका होगा।

बता दें कि विराट ने वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे में बहुत रन बनाए हैं और वे भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। लेकिन इस सीरीज में वे वेस्टइंडीज के पूर्व बल्लेबाज रामनरेश सरवन का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। सरवन ने कैरेबियाई धरती पर इन दोनों टीमों के बीच हुए वनडे सीरीज में सबमें सबसे ज्यादा रन बनाए हैं। सरवन ने भारत के खिलाफ 17 वनडे मैचों में वेस्टइंडीज की ओर से कुल 700 रन बनाए हैं। वहीं विराट कोहली के नाम वेस्टइंडीज की धरती पर 12 मैचों में 55.60 की औसत से अब तक कुल 556 रन हैं। ऐसे में यदि इन 3 मैचों में यदि विराट 145 रन और बनाते हैं तो वे सरवन को पीछे छोड़ देंगे। इस सूची में 512 रनों से साथ क्रिस गेल तीसरे स्थान पर हैं। गेल के पास भी सबसे आगे निकलने का मौका होगा। गेल टी-20 सीरीज में तो नहीं खेले, लेकिन वनडे सीरीज में जरूर खेलेंगे क्योंकि ये उनकी बिदाई सीरीज है। जाहिर है वे अपनी इस बिदाई को यादगार बनाना चाहेंगे।

हेंस का रिकॉर्ड भी करीब

विराट के निशाने पर केवल सरवन का रिकॉर्ड ही नहीं है। उनके पास यहां डेसमंड हैंस के रिकॉर्ड को तोड़ने का भी मौका है। वेस्टइंडीज में हुए भारत व वेस्टइंडीज के बीच वनडे मैचों में हेंस ने दो शतक लगाए हैं। वहीं विराट भी कैरेबियाई धरती पर 2 शतक लगा चुके हैं। यदि विराट इस सीरीज में एक और शतक लगाते हैं तो वे न केवल हेंस का रिकॉर्ड तोड़ देंगे बल्कि वेस्टइंडीज की धरती पर सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे।

ओवरऑल रिकॉर्ड भी जबर्दस्त

विराट का वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे क्रिकेट का ओवरऑल रिकॉर्ड भी जबर्दस्त है। वे वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं। उन्होंने इंडीज के खिलाफ कुल 33 मैच खेले हैं जिसमें 70.81 की औसत से कुल 1912 रन बनाए हैं, जिनमें 7 शतक शामिल हैं। इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर सचिन तेंडुलकर का नाम है जिन्होंने 39 मैचों में 1573 रन बनाए।