मल्टीमीडिया डेस्क। भारत को मंगलवार को न्यूजीलैंड के हाथों तीसरे इंटरनेशनल वनडे में हार का सामना करना पड़ा था। इसी के साथ 31 साल बाद तीन या ज्यादा वनडे मैचों की सीरीज में भारतीय टीम का सफाया हुआ। इस हार के दौरान भारतीय कप्तान Virat Kohli के नाम भी कई शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गए। कप्तान के तौर पर किसी द्विपक्षीय वनडे सीरीज में यह Virat Kohli का सबसे खराब प्रदर्शन रहा हैं।

Virat Kohli ने हैमिल्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के पहले मैच में 51 रन बनाए थे जो उनका इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में 58वां अर्द्धशतक था। वे इसके बाद दूसरे वनडे में ऑकलैंड में 15 रन ही बना पाए थे। माउंट माउंगानुई में मंगलवार को तीसरे वनडे में वे सिर्फ 9 रन बनाकर आउट हुए थे। इस तरह भारतीय कप्तान Virat Kohli इस तीन मैचों की सीरीज में 25 के औसत से कुल 75 रन ही बना पाए।

यह उनके द्वारा कप्तान के रूप में किसी वनडे सीरीज में बनाए गए सबसे कम रन हैं। इससे पहले कप्तान के रूप में उनका सबसे निराशाजनक प्रदर्शन पिछले साल वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू वनडे सीरीज में रहा था। उस समय तीन मैचों की सीरीज में Virat Kohli कुल 89 रन ही बना पाए थे। उन्होंने पिछले साल न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में 148 रन बनाए थे, लेकिन उस पांच मैचों की सीरीज में वे तीन मैच ही खेले थे।

कप्तान के रूप में द्विपक्षीय सीरीज में सबसे कम रन

75 रन वि. न्यूजीलैंड (2020)

89 रन वि. वेस्टइंडीज (2019)

148 रन वि. न्यूजीलैंड (2019, 3 मैच खेले)

पिछले 5 सालों का सबसे खराब प्रदर्शन :

यदि एक बल्लेबाज के रूप में देखा जाए तो यह Virat Kohli का पिछले पांच सालों में सबसे खराब प्रदर्शन रहा है। विराट कोहली ने इस सीरीज में 3 मैचों में 25 की औसत से 75 रन बनाए। उनका सबसे खराब प्रदर्शन साल 2015 में बांग्लादेश के खिलाफ रहा, जब वे तीन मैचों की सीरीज में 16.33 की औसत से 49 रन ही बना पाए थे। विराट ने उस सीरीज में पहले मैच में 1 रन, दूसरे मैच में 23 रन और तीसरे मैच में 25 रन बनाए थे।

Posted By: Kiran Waikar

fantasy cricket
fantasy cricket