लंदन। न्यूजीलैंड को रविवार को लॉर्ड्स में क्रिकेट वर्ल्ड कप फाइनल में इंग्लैंड के हाथों बाउंड्री काउंट नियम के तहत हार झेलनी पड़ी थी। न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर जिमी नीशम ने इस खिताबी मुकाबले के सुपर ओवर में छक्का लगाया लेकिन उन्हें दोहरा झटका सहना पड़ा। न्यूजीलैंड की हार तो हुई ही उधर इस मैच के सुपर ओवर के दौरान नीशम के बचपन के कोच डेविड जेम्स गॉर्डन का निधन हो गया।

नीशम के हाईस्कूल के कोच गॉर्डन को पांच सप्ताह पहले हार्ट अटैक आया था। 14 जुलाई को इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच हुए वर्ल्ड कप फाइनल के सुपर ओवर के दौरान उनका निधन हो गया। कोच डेविड की बेटी लियोनी ने बताया कि सुपर ओवर के दौरान जब नीशम ने छक्का लगाया संभवत: उसी समय उनके पिता ने अंतिम सांस ली। लियोनी ने कहा, जब सुपर ओवर चल रहा था तब नर्स बाहर आई और उसने बताया कि पिता की सांस उपर-नीचे हो रही है। दूसरी गेंद पर नीशम ने छक्का मारा और इधर मेरे पिता का निधन हो गया।

नीशम ने अपने कोच को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा, 'डेव गॉर्डन मेरे हाई स्कूल शिक्षक, कोच और दोस्त। आपका क्रिकेट के प्रति प्यार अतुलनीय था। हम भाग्यशाली थे कि हमें आपके मार्गदर्शन में खेलने का मौका मिला। हम उम्मीद करते है कि हमारे खेल को देखकर आपने गर्व महसूस किया होगा। आपका धन्यवाद। भगवान आपकी आत्मा को शांति प्रदान करे।'

लियोनी ने अपने पिता और नीशम के संबंधों के बारे में बताया कि मेरे पिता नीशम के संपर्क में रहते थे और वे जिमी के पिता के दोस्त थे। नीशम के प्रति उनके मन में प्यार था और उन्हें उन पर गर्व था। वे उनके करियर पर निगाह रखते थे।

Posted By: Kiran Waikar