मैनचेस्टर (एजेंसियां)। इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) में आर्सेनल ने मैनचेस्टर यूनाइटेड को बराबरी पर रोक दिया। इससे मैनचेस्टर की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा है क्योंकि वो इस मुकाबले में जीत की उम्मीद कर रहा था। सोमवार देर रात ओल्ड ट्रैफर्ड में खेले गए इस मुकाबले के दूसरे हाफ में आर्सेनल के लिए पियरे एमरिक ने वीडियो असिस्टेंट रैफरी (वार) तकनीक के सहारे बराबरी का ये गोल दागा। मुकाबला ड्रॉ होने पर दोनों टीमों को 1-1 अंक मिला।

मैनचेस्टर यूनाइटेड की टीम पहले हाफ में उम्मीद के मुताबिक खेल नहीं दिखा सकी। हालांकि 45वें मिनट में मैनचेस्टर के लिए स्कॉट मैकटोमिनी ने शानदार गोल दागकर अपनी टीम को बढ़त दिलाई। टीम इस गोल की बढ़त के साथ अपनी जीत तय मान रही थी तभी खेल के 58वें मिनट में रोमांचक क्षण आया और मैनचेस्टर की खुशी निराशा में बदल गई। पियरे एमरिक ने इस दौरान गोल दाग दिया। हालांकि पियरे एमरिक के गोल को ऑफ साइड करार दिया गया था लेकिन उन्होंने वीडियो असिस्टेंट रैफरी (वार) तकनीक का सहारा लिया। वीडियो रिप्ले में साफ नजर आया कि पियरे एमरिक ऑफ साइड नहीं थे और मैनचेस्टर यूनाइडेट के खिलाड़ियों के बीच से निकलकर ही गोल पोस्ट की ओर बढ़े थे। ऐसे में वार का ये फैसला पियरे के पक्ष में गया और इस गोल को सही ठहराया गया। इसी के साथ मुकाबला 1-1 से बराबर हो गया। ये 7 मैचों में पियरे एमरिक का 7वां गोल रहा।

यूनाइटेड की टीम पिछले 12 मुकाबलों में केवल 2 मुकाबले जीत पाई है। इस सत्र में 7 मैचों के बाद उसके केवल 9 अंक हैं और वो अंक तालिका में 10वें स्थान पर है। तालिक में लिवरपूल 21 अंकों के साथ सबसे ऊपर हैं। वहीं ये मुकाबला ड्रॉ कराकर आर्सेनल को एक अंक मिला और वो 12 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है। बता दें कि मैनचेस्टर यूनाइटेड और आर्सेनल को कट्टर प्रतिद्वंद्वी माना जाता है और इनका मुकाबला ईपीएल के खास मुकाबलों में से एक माना जाता है। इन दोनों क्लबों ने 1996 से लेकर 2004 तक लगातार 9 खिताब जीते थे।

Posted By: Rahul Vavikar